Home » इंडिया » After seven years in Bangladesh, missing boy reunites with family in Delhi
 

सोनू के परिवार को मिली 'ईदी', छह साल बाद बांग्लादेश से दिल्ली लौटा बेटा

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST
(एमईए ट्विटर)

दिल्ली के सीमापुरी में रहने वाले महबूब ने ये कभी नहीं सोचा होगा कि रमजान का ये पाक महीना उनके लिए इतनी बड़ी खुशी लेकर आएगा. महबूब और उनका परिवार पूरे 6 साल बाद सोनू के साथ ईद का त्यौहार मनाएगा. 

2009 में अगवा कर बांग्लादेश ले जाया गया सोनू विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के प्रयासों के चलते आज वतन लौट आया. सोनू गुरुवार दोपहर 1 बजे विमान से दिल्‍ली एयरपोर्ट पहुंचा, जहां उसे उसके परिजनों के हवाले कर दिया गया.

सुषमा स्वराज की कोशिश लाई रंग

सोनू के परिवार के लिए छह साल बाद सोनू का लौटना किसी ईद से पहले ही ईदी के मिलने की तरह है. गौरतलब है कि बांग्लादेश के एक व्यक्ति जमाल इब्नमूसा ने सोनू के बांग्लादेश में होने का खुलासा किया था.

इसके बाद सोनू के डीएनए को उसकी मां के डीएनए से मिलाकर देखा गया. डीएनए के मिलान के बाद अब बांग्लादेश में मौजूद भारतीय उच्चायोग के अधिकारी सोनू को दिल्ली लेकर आए.

23 मई 2010 को लापता

परिवारवालों के मुताबिक 23 मई 2010  को घर के बाहर से सोनू अचानक लापता हो गया. सोनू के लापता होने के बाद एक महिला ने फोन किया और बच्चे के बदले फिरौती की मांग की.

घरवालों ने पुलिस में शिकायत भी दर्ज करवाई, लेकिन सोनू नहीं मिला. बाद में पता चला कि वह बांग्लादेश में है. भारत लौटने के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सोनू और उसके परिवार वालों से मुलाकात की.

First published: 30 June 2016, 4:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी