Home » इंडिया » after sex scandal aap facing corruption charges in punjab
 

संदीप सेक्स स्कैंडल के बाद अब आप नेता संजय सिंह पर पंजाब में भ्रष्टाचार का आरोप

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 September 2016, 13:28 IST
(एजेंसी)

दिल्ली में केजरीवाल सरकार के पूर्व मंत्री संदीप कुमार के सेक्स स्कैंडल में फंसने के बाद अब आम आदमी पार्टी की पंजाब शाखा में भ्रष्टाचार का बड़ा और गंभीर लगा है.

आम आदमी पार्टी ने बीते दिनों पंजाब इकाई के प्रमुख सुच्चा सिंह छोटेपुर के कथित तौर पर घूस लेने का वीडियो सामने आने के बाद उन्हें पद से हटाया ही था कि गुरुवार को पार्टी के बागी नेता हरदीप सिंह किंगरा ने एक ऑडियो स्टिंग जारी करके पार्टी के पंजाब प्रभारी संजय सिंह और राष्ट्रीय संगठन निर्माण प्रमुख दुर्गेश पाठक पर पैसे लेने का आरोप लगाया है.

कैच इस ऑडियो की प्रामाणिकता की पुष्टि नहीं करता है.

आप ने आरोपों को नकारा

हालांकि आप नेताओं ने किंगरा के लगाए आरोपों को गलत बताया है. किंगरा द्वारा जारी किए गए ऑडियो के अनुसार दुर्गेश पाठक के एक एजेंट ने कथित तौर पर उनके साथ मुलाकात कराने के लिए एक वालंटियर से पांच लाख रुपये मांगे थे.

बताया जा रहा है कि ऑडियो में दुर्गेश पाठक के नजदीकी एजेंट अमरीश त्रिखा को कथित तौर पर समराला के वालंटियर परमजीत सिंह ढिल्लों से पाठक से मुलाकात के लिए पांच लाख रुपये पर बात तय करते नजर आ रहे हैं.

छोटेपुर के करीबी हैं किंगरा

किंगरा को सुच्चा सिंह छोटेपुर का करीबी माना जाता है. उन्होंने पंजाब विधानसभा चुनाव में आप प्रत्याशियों की पहली सूची जारी होने से एक दिन पहले पार्टी से इस्तीफा दे दिया था.

इस ऑडियो के आने के बाद आप की ओर से गुरुवार को एक बयान जारी किया गया. इस बयान में कहा गया है कि आप इस ऑडियो की भी जांच कराएगी और उसमें यदि कुछ भी गलत पाया गया, तो दोषी पर कार्रवाई की जाएगी. इसके अलावा पार्टी ने अमरीश त्रिखा से इन आरोपों के बारे में अपना रुख स्पष्ट करने को कहा गया है.

'टिकट के लिए घटिया हरकत'

वहीं किंगरा के आरोपों पर आप सांसद भगवंत मान ने कहा कि किंगरा पार्टी में टिकट पाने की मंशा से आए थे, लेकिन जब वह नाकाम रहे तो उन्होंने इस तरह की घटिया हरकत की है. मान ने कहा कि इन आरोपों की जांच कराई जाएगी, क्योंकि आप अब भी अपने उस रुख पर कायम है, जिसमें वह किसी भी सूरत में भ्रष्टाचार को बर्दाश्त नहीं करेगी.

गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में अपने डेढ़ साल के शासनकाल में अब तक कुल तीन मंत्रियों को बाहर का रास्ता दिखाया है. महिला एवं विकास मंत्री संदीप कुमार के सेक्स स्कैंडल से पहले फर्जी डिग्री मामले में कानून मंत्री जितेंद्र तोमर और उसके बाद बिल्डर से पैसे मांगने के आरोप में खाद्य आपूर्ति मंत्री असीम अहमद खान को मंत्रिमंडल से बर्खास्त किया जा चुका है.

First published: 3 September 2016, 13:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी