Home » इंडिया » Agusta Westland: Parliament proceedings disrupts again, ruckus in Rajya Sabha
 

अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले पर घमासान, चौथे दिन भी संसद में संग्राम

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 May 2016, 12:55 IST

संसद में अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले पर हंगामा जारी है. लगातार चौथे दिन संसद की कार्यवाही बाधित हुई है. राज्यसभा की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस के सांसद एक बार फिर वेल के पास पहुंच गए. जिसके बाद कार्यवाही स्थगित कर दी गई.

विपक्ष इस मामले में सरकार से चर्चा की मांग कर रहा है. वहीं संसदीय कार्यमंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि सरकार सदन में इस मामले से जुड़े हर तथ्य रखने को तैयार है. नायडू ने कहा कि रक्षा मंत्री इस मुद्दे पर पहले भी बयान दे चुके हैं. 

naidu

वहीं रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर संसद में बुधवार को अगस्ता वेस्टलैंड डील पर बयान देने वाले हैं. नायडू ने कहा कि कांग्रेस बेवजह संसद का कामकाज ठप कर रही है. वो केवल मुद्दे को भटकाने की कोशिश कर रहे हैं, जबकि पूरा मामला यूपीए सरकार के कार्यकाल से जुड़ा है.

राज्यसभा में कांग्रेस के सदस्यों के हंगामा मचाने पर पहले कार्यवाही साढ़े ग्यारह बजे तक के लिए स्थगित की गई, लेकिन जब दूसरी बार कार्यवाही शुरू हुई तो विपक्ष ने फिर शोरगुल करना शुरू कर दिया.

हंगामे के चलते पहले कार्यवाही बारह बजे तक के लिए और फिर साढ़े बारह बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई. वहीं गुजरात पेट्रोलियम कॉरपोरेशन पर सीएजी की रिपोर्ट को लेकर भी कांग्रेस ने हंगामा खड़ा कर दिया.

जिसके बाद सदन की कार्यवाही को दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया.

पढ़ें:अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला: पूर्व रक्षा मंत्री एंटनी के दावे को जेटली ने नकारा

रक्षा मंत्री के बयान की मांग


तृणमूल कांग्रेस के सुखेंदु शेखर रॉय ने अगस्ता वेस्टलैंड का मुद्दा उठाते हुए राज्यसभा में रक्षा मंत्री से बयान देने की मांग करते हुए पूछा कि वो बताएं आखिर किसने घूस ली है.

वहीं संसदीय कार्य राज्यमंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि अगस्ता वेस्टलैंड पर चर्चा की मांग करना कांग्रेस की असल मुद्दे से भटकाने की रणनीति का हिस्सा है.

इस बीच रविवार को राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने आरोप लगाया था कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के विदेश में दो बैंक खाते हैं. स्वामी ने कहा कि कांग्रेस के बड़े नेता अगस्ता वेस्टलैंड मामले में जल्द ही जेल जाएंगे. 

इटली की अदालत का फैसला आने के बाद से अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर घोटाले को लेकर कांग्रेस और बीजेपी आमने-सामने हैं. कांग्रेस ने आरोपों को खारिज करते हुए केंद्र सरकार पर कंपनी को ब्लैकलिस्ट से हटाने का आरोप लगाया है.

पढें:अगस्ता वेस्टलैंडः भाजपा के ईंट का जवाब पत्थर से दे रही कांग्रेस

कांग्रेस का कहना है कि उसके कार्यकाल में कंपनी को ब्लैकलिस्ट कर दिया गया था, लेकिन 24 अगस्त 2014 को मोदी सरकार ने अगस्ता वेस्टलैंड को काली सूची से हटा दिया.

naqvi

First published: 2 May 2016, 12:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी