Home » इंडिया » Agusta Westland Scam: Ready to talk with Indian agencies says middleman James Michel
 

अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला: बिचौलिए का बयान, किसी गांधी को नहीं जानता

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 May 2016, 12:26 IST

अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले में कांग्रेस बैकफुट पर है. हालांकि इटली की मिलान कोर्ट ने अभी केवल पूर्व वायुसेनाध्यक्ष एसपी त्यागी को रिश्वत लेने का दोषी माना है.

इस बीच अंग्रेजी अखबार द हिंदू के मुताबिक वीवीआईपी चॉपर डील मामले में आरोपी बिचौलिए जेम्स क्रिश्चियन मिशेल ने जांच कर रही एजेंसियों को सहयोग देने का भरोसा दिया है.   

अखबार के मुताबिक दुबई में रह रहे जेम्स क्रिश्चियन मिशेल ने कहा है कि वो खुद को पाक साफ साबित करने के लिए भारतीय जांच एजेंसियों के हर सवाल का जवाब देने को तैयार है. घोटाले के आरोपों की जांच सीबीआई कर रही है.

द हिंदू के मुताबिक मिशेल ने कहा, "इस मामले को सुलझाने का एक ही तरीका है, सीधा सवाल-जवाब." मिशेल का कहना है कि उसे भरोसा है कि सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारी पूछताछ के लिए दुबई आएंगे.

पढ़ें:अगस्‍ता वेस्‍टलैंड घोटाला: जद में पूर्व वायुसेनाध्यक्ष एसपी त्यागी और कांग्रेसी नेता

अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक मिशेल ने दावा किया है कि उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बारे में लिखित प्रस्ताव भेजा था, लेकिन अब तक उनका जवाब नहीं आया है.

'गांधी परिवार से कभी नहीं मिला'


वहीं इस मामले में कथित रूप से गांधी परिवार पर आरोपों को लेकर मिशेल ने कहा, "मैंने कभी भी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात नहीं की है. यही नहीं परिवार के किसी सदस्य से मैं कभी नहीं मिला हूं."

जेम्स मिशेल ने द हिंदू को बताया कि उसके पिता डब्ल्यू मिशेल का संबंध जरूर भारत से रहा है, वो रक्षा सौदों में बिचौलिए की भूमिका निभाते रहे हैं.

जेम्स मिशेल ने दुबई से अखबार को दिए इंटरव्यू में कहा' "ये मेरा सबसे बड़ा सौभाग्य है कि मैं कभी किसी भी गांधी से नहीं मिला, ना कोई फोन कॉल, ना खत, ना कोई संदेश किसी भी तरह का संपर्क नहीं रहा."

First published: 1 May 2016, 12:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी