Home » इंडिया » Ahmadabad: family suicides in black magic as happened in Burari case
 

अन्धविश्वास के चलते अहमदाबाद में भी हुआ बुराड़ी जैसा कांड, एक साथ पूरे परिवार ने की आत्महत्या

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 September 2018, 15:28 IST

गुजरात के अहमदाबाद में एक पूरे परिवार ने आत्महत्या कर ली. इस परिवार ने भी दिल्ली के बुराड़ी कांड की तरह ही इस घटना को अंजाम दिया. अन्धविश्वास के चलते एक ही परिवार के तीन सदस्यों ने जान दे दी. इस पूरी घटना के पीछे तंत्र-मंत्र का मामला सामने आया है. पुलिस इस पूरी घटना की जांच में लगी हुई है.

जानकारी एक अनुसार नरोदा के अवनि स्काई में रहने वाले एक परिवार के मुखिया कुणाल त्रिवेदी के फांसी लगा ली. बुरासदी काण्ड की ही तरह इस काण्ड में भी परिवार के मुखिया कुणाल ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली. जबकि उनकी पत्नी कविता की लाश उनके बेटे श्रीन के साथ घर से ही बरामद हुई. श्रीन की उम्र 16 साल की बताई जा रही है.

पुलिस रिपोर्ट के अनुसार कुणाल की पत्नी और बेटे ने जहर खाया है. पुलिस ने जांच में पाया कि कविता और उसके बेटी ने कोई जहरीली दवा पी है जिससे उनकी मौत हो गई है. वहीं कुणाल की मां की हालत गंभीर है. उनपर जहर का असर नहीं हो पाया है. उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

घटना के बारे में मिली जानकारी के अनुसार पिछले 24 घंटे से उनका घर बंद था. रिश्तेदारों के कई बार फ़ोन करने के बाद भी उनसे संपर्क नहीं हो पा रहा था. फ़ोन का कोई जवाब न मिलनी पर चिंतित रिश्तेदारों ने पुलिस को इस बात की सूचना दी. पुलिस जब घर के अंदर पहुंची तो उसे कुणाल की लाश फांसी पर लटकती मिली. जबकि उसकी पत्नी कविता को फर्श पर गिरा हुआ पाया. उनकी बेटी की लाश बिस्तर पर पड़ी हुई थी.

सुसाइड नोट से हुआ तंत्र-मंत्र का खुलासा

पुलिस को जांच के समय जो सुसाइड नोट मिला है उसके हिसाब से ये घटना तंत्र-मंत्र के कारण हुई है. सुसाइड नोट में लिखा है, "मम्मी आप मुझे कभी भी समझ नहीं पायी, मैंने कई बार इस काली शक्ति के बारे में बताया था लेकिन आपने कभी उसे माना नहीं और शराब को उसका कारण बताया." सुसाइड नोट में ये भी लिखा कि वे कभी भी आत्महत्या नहीं कर सकते हैं, लेकिन काली शक्तियों की वजह से आत्महत्या कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- बुराड़ी कांड: ललित के 'मौत के प्लान' में फंस गया था बड़ा भाई, फंदा छुड़ाकर बचना चाहता था

First published: 12 September 2018, 15:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी