Home » इंडिया » Akhilesh yadav refuse to go to RSS meeting, sayd Sardar patel banned it and i do not have courage to go there
 

RSS की बैठक में जाने से अखिलेश यादव ने किया इंकार, बोले- सरदार पटेल ने लगाया था बैन

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 September 2018, 14:28 IST

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) की बैठक में हिस्सा लेने से इंकार कर दिया. एक न्यूज़ कार्यक्रम में शिरकत कर रहे समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश ने कहा, "मुझे आरएसएस के बारे में ज्यादा ज्ञान नहीं है. मैंने केवल सरदार पटेल द्वारा आरएसएस पर प्रतिबंध लगाने के बारे में पढ़ा है और उस को पढ़कर, मेरे पास बैठक में भाग लेने का साहस नहीं है."

अखिलेश ने कहा, "मैं हमेशा इस बात पर जोर देता हूं कि सभी को उन मामलों के बारे में कम से कम पढ़ना चाहिए, जिसे सरदार पटेल ने प्रतिबंधित किया था. यह सुनिश्चित करेगा कि उन्होंने जो कुछ भी उस समय कहा था, वह स्थिति आज भी बनी हुई है."

गौरतलब है कि आरएसएस दिल्ली के विज्ञान भवन में 'भविष्य का भारत: आरएसएस का दृष्टिकोण' पर एक तीन दिवसीय लेक्चर सिरीज़ का आयोजन कर रही है. इस आयोजन में देश के बड़े राजनेताओं के साथ ही 60 अन्य देशों को भी न्योता भेजा जाएगा, लेकिन इन 60 देशों में पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान का नाम नहीं है.

इसमें पहले दिन भागवत आरएसएस, इसके संगठन, विचारधारा, दृष्टि, गतिविधियों और कार्यक्रमों के बारे में बात करेंगे. अगले दिन, भागवत राष्ट्रीय महत्व के विभिन्न समकालीन मुद्दों पर आरक्षण, हिंदुत्व और सांप्रदायिकता सहित अपने विचार पेश करेंगे.

दिल्ली में RSS कर रहा है बड़ा आयोजन, पाकिस्तान को छोड़कर 60 देशों को न्यौता

इस कार्यक्रम को मोहन भागवत द्वारा संबोधित किया जाएगा. आरएसएस उन सभी राज्यों में मजबूत आधार के साथ सभी राष्ट्रीय राजनीतिक दलों और क्षेत्रीय दलों को भी आमंत्रित कर रहा है जो विभिन्न मुद्दों पर आरएसएस पर आक्रामक रूप से निशाना साधते हैं. राजनयिक मिशन और राजनीतिक दलों के अलावा, आरएसएस से उद्योग, मीडिया और अन्य क्षेत्रों के प्रतिनिधियों को आमंत्रित करने की भी उम्मीद है.

First published: 16 September 2018, 14:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी