Home » इंडिया » akshardham temple priest died, pm modi and soniya obituary condolence
 

अक्षरधाम मंदिर के महंत का निधन, पीएम मोदी और सोनिया ने जताया शोक

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 August 2016, 15:41 IST
(यू-ट्यूब)

अक्षरधाम मंदिर के संस्थापक स्वामी महाराज शांतिलाल पटेल जी का 95 वर्ष की उम्र में शनिवार शाम 6 बजे गुजरात के सारंगपुर में लंबी बिमारी के बाद निधन हो गया.

स्वामी नारायण संस्था के संस्थापक और पूरी दुनिया में अक्षरधाम मंदिर बनवाने वाले स्वामी महाराज को पिछले कुछ महीनों से वेंटीलेटर पर रखा गया था.

हालांकि स्वामी नारायण संस्था से मिली जानकारी के मुताबिक पिछले एक हफ्ते से उनकी तबीयत में सुधार था, जिसके बाद वेंटीलेटर हटा दिया गया था.

7 दिसंबर 1922 को जन्मे स्वामी महाराज ने 18 साल उम्र में गृह त्याग कर धर्म का मार्ग चुना था, इनका असली नाम शांतिलाल पटेल है.

धर्मगुरु के तौर पर मशहूर स्वामी महाराज ने दुनिया भर 631 मंदिरों का निर्माण करवाया. इसके अलावा बीएपीएस नाम से कई संस्थाएं भी चलती हैं.

इन संस्थाओं के जरिए अब तक करीब ढाई लाख से भी ज्यादा लोगों की बीड़ी, तंबाकू और शराब की आदतें छुड़वाई गई हैं.

बीएपीएस संस्थान में 5500 से ज्यादा लोग काम करते हैं. स्वामी महाराज ने 10 जनवरी 1940 को नारायण स्वरूप दासजी के रूप में अपना आध्यात्मिक सफर शुरू किया.

स्वामी महाराज ने साल 1950 में मात्र 28 वर्ष की उम्र में ही बीएपीएस के प्रमुख का पद संभाल लिया था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी स्वामी महाराज के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि वे मेरे लिए एक संरक्षक थे. मैं उनकी बातों को कभी नहीं भूल सकता, उनकी मौजूदगी का एहसास हमेशा रहेगा.

पीएम मोदी के अलावा कांग्रेस के अध्यक्ष सोनिया गांधी ने स्वामी महाराज के निधन पर गहरा शोक जताया है और इसे भारतीय अध्यात्म की बड़ी क्षति बताया है. 

First published: 14 August 2016, 15:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी