Home » इंडिया » Aligarh: Muslim Youth beaten up for reading Gita-Ramayana book
 

गीता-रामायण पढ़ता था युवक, मुस्लिम कट्टरपंथियों ने कर दी जमकर पिटाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 July 2019, 11:10 IST

यूपी के अलीगढ़ में मुस्लिम समुदाय के एक युवक को उसके धर्म के कट्टरपंथियों ने सिर्फ इसलिए पीट दिया, क्योंकि उसे गीता और रामायण की किताबें पढ़ने में दिलचस्पी थी. दिलशेर नामक मुस्लिम युवक रोज नहाने के बाद रामायण पढ़ता था. रामायण की कई चौपाइयां उन्हें याद हैं. इसके अलावा वह गीता भी पढ़ते हैं.

दिलशेर ने बताया कि साल 1979 से वह रामायण का पाठ करते हैं. इससे उनके मन को सुकून मिलता है. इसकी जानकारी जब उनके धर्म के कट्टरपंथियों को हुई तो उन्होंने दिलशेर की पिटाई कर दी. अलीगढ़ के महफूज़ नगर में रहने वाले दिलशेर की पिटाई के बाद आरोपियों ने उनसे गीता और रामायण छीन लिया और उनका हारमोनियम तोड़ दिया.

इस घटना की शिकायत दिलशेर ने थाने मेें कराई. जिसके बाद पुलिस ने दबंगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया. अलीगढ़ एसपी (देहात) ने मामले को गंभीरता से लेते हुए थाना देहली गेट पुलिस को आरोपियों के खिलाफ जल्द कार्रवाई करने के निर्देश दे दिए हैं.

दिलशेर ने लिखित शिकायत में कहा कि उनका गीता और रामायण पढ़ना पड़ोसी समीर व ज़ाकिर को हज़म नहीं हुई. इसके बाद अपने साथियों के साथ उनके घर में घुसकर समीर व जाकिर ने उन पर हमला कर दिया. इसके अलावा धर्म ग्रंथ भी फाड़ने की कोशिश की. पीड़ित ने बताया कि उन्होंने अपने परिवार की किसी तरह जान बचाई.

हमलावरों ने जाते-जाते आगे से गीता-रामायण न पढ़ने की चेतावनी दी. इसके साथ ही जान से मारने की धमकी भी दी. पुलिस ने एक आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है. हालांकि आरोपी ने दिलशेर से झगड़े की बात स्वीकारी है. लेकिन धर्मग्रंथ के कारण मारपीट के आरोपों को बेबुनियाद बताया है.

Budget 2019: मोदी सरकार के पहले बजट में गरीबों को बंपर तोहफा, ये चीजेंं हुईं सस्ती

Union Budget 2019: पेट्रोल-डीजल होगा महंगा, मोदी सरकार ने बढ़ा दी एक्साइज ड्यूटी

First published: 6 July 2019, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी