Home » इंडिया » allahabad high court rejected sp mla ram kumar election
 

अखिलेश सरकार को झटका, हाईकोर्ट ने रद्द की ददुआ के भतीजे की विधानसभा सदस्यता

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 August 2016, 15:02 IST
(एजेंसी)

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने अखिलेश सरकार को तगड़ा झटका देते हुए समाजवादी पार्टी के विधायक राम सिंह के चुनाव को रद्द कर दिया है.

बताया जा रहा है कि राम सिंह कुख्यात ददुआ के भतीजे हैं और प्रतापगढ़ की पट्टी विधानसभा सीट से चुनाव जीते थे.

इस मामले में सुनवाई करते हुए जस्टिस एएन मित्तल ने कहा कि जिला प्रशासन ने डाक द्वारा भेजे गए वोटों की गिनती नहीं की थी. इसलिए इस चुनाव को वैधानिक नहीं माना जाता है.

इसके अलावा कोर्ट ने एसडीएम शारदा प्रसाद यादव को मामले का दोषी माना है और उसके साथ ही तत्कालीन डीएम और संबंधित अधिकारियों पर कार्यवाही का आदेश दिया है. 

गौरतलब है कि साल 2012 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी राम सिंह को 61434 वोट मिले थे, जबकि बीजेपी के प्रत्याशी मोती सिंह को 61278 वोट मिले.

156 वोट से चुनाव हारने के बाद बीजेपी के प्रत्याशी मोती सिंह ने इस परिणाम को कोर्ट में चुनौती दी थी और तैनात अधिकारियों पर चुनाव में धांधली का आरोप लगाया था.

इस मामले में मोती सिंह की ओर से केस की पैरवी कर रहे वकील शशि प्रकाश सिंह ने कोर्ट से कहा कि 955 वोट गलत तरीके से रद्द किए गये थे. 

First published: 10 August 2016, 15:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी