Home » इंडिया » Rohit Kumar Mishra of ABVP is new president of Allahabad Central University Student Union
 

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में 25 साल बाद एबीवीपी का छात्रसंघ अध्यक्ष बना

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 October 2016, 14:46 IST
(सोशल मीडिया)

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी छात्रसंघ अध्यक्ष के चुनाव में भाजपा समर्थित संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद को बड़ी कामयाबी मिली है. अध्यक्ष पद पर एबीवीपी के उम्मीदवार रोहित कुमार मिश्र ने जीत हासिल की है.

इससे पहले 1991 में रामलहर के दौरान लक्ष्मीशंकर ओझा ने बतौर एबीवीपी उम्मीदवार अंतिम बार जीत हासिल की थी. पिछले छात्रसंघ चुनाव में एबीवीपी को चार पदों पर जीत मिली थी, जबकि इस बार अध्यक्ष और उपमंत्री के पद पर एबीवीपी ने जीत का परचम लहराया है. उपमंत्री पद पर विद्यार्थी परिषद के अभिषेक पांडे ने जीत दर्ज की है.

विजयी उम्मीदवार

अध्यक्ष- रोहित कुमार मिश्र (एबीवीपी)

उपाध्यक्ष- आदिल हमजा (समाजवादी छात्रसभा)

महामंत्री- शिवबालक यादव (समाजवादी छात्रसभा)

उपमंत्री- अभिषेक पांडेय (एबीवीपी)

प्रकाशन मंत्री- मनीष सैनी (समाजवादी छात्रसभा)

अल्पसंख्यक उपाध्यक्ष

पूरब के ऑक्सफोर्ड कहे जाने वाले इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव में उपाध्यक्ष पद पर भी चौंकाने वाला नतीजा आया है. उपाध्यक्ष पद पर समाजवादी छात्रसभा के आदिल हमजा ने जीत हासिल की.

विश्वविद्यालय की राजनीति को करीब से जानने वालों का कहना है कि उन्हें याद नहीं आता कि इससे पहले कोई मुस्लिम प्रत्याशी कब इस पद पर जीता था. 

रोहित ने सपा उम्मीदवार को हराया

एबीवीपी के रोहित कुमार मिश्र इलाहाबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ अध्यक्ष चुनाव में सपा के अजित यादव को हराकर यह जीत दर्ज की. शुक्रवार आधी रात घोषित हुए नतीजों में पांच प्रमुख पदों में एबीवीपी को अध्यक्ष समेत दो पदों पर कामयाबी मिली है.

इसके अलावा सपा छात्र सभा का पैनल तीन पदों पर जीत दर्ज करने में कामयाब रहा. कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई और वामपंथी विचारधारा के आइसा का पिछले साल की तरह इस बार भी खाता नहीं खुल सका. इनके सभी उम्मीदवारों को करारी हार का सामना करना पड़ा.

सर्जिकल स्ट्राइक इफेक्ट!

एबीवीपी के रोहित मिश्र को कुल 3397 वोट मिले. उपाध्यक्ष पद पर सपा छात्र सभा के आदिल हमज़ा कुल 1860 वोट पाकर चुनाव जीते हैं. महामंत्री पद पर भी सपा छात्र सभा को ही कामयाबी मिली है. शिव बालक यादव ने 2853 वोट पाकर जीत हासिल की.

अध्यक्ष पद पर कांटे के मुकाबले में रोहित ने 95 वोटों के अंतर से समाजवादी छात्रसभा के अजीत यादव को मात दी. इसके अलावा उपमंत्री पद पर एबीवीपी के अभिषेक पांडेय उर्फ़ योगी ने 2191 वोट पाकर जीत दर्ज की. वहीं प्रकाशन मंत्री पद पर सपा के मनीष कुमार निर्वाचित हुए हैं.

उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. ऐसे में इस नतीजे के सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं. माना जा रहा है कि पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक का फायदा एबीवीपी को मिला.

निर्वाचित छात्रसंघ अध्यक्ष रोहित मिश्र ने भी जीत के बाद माना कि एलओसी पार करके पाकिस्तान के खिलाफ की गई सेना की कार्रवाई ने उन्हें चुनाव में काफी फायदा पहुंचाया.

First published: 1 October 2016, 14:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी