Home » इंडिया » along with 52 mla sisodiya fee by delhi police
 

दिल्ली पुलिस ने सिसोदिया सहित 52 आप विधायकों को किया रिहा

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2016, 16:01 IST
(एजेंसी)

दिल्ली पुलिस ने धारा 144 को तोड़ने वाले दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया सहित 52 एमएलए को हिरासत में लेने के 3 घंटे के बाद रिहा कर दिया.

52 एमएलए के जत्थे के साथ सिसोदिया रविवार सुबह बिना इजाजत पीएम मोदी के आधिकारिक आवास 7 आरसीआर की ओर बढ़ रहे थे.

दिल्ली पुलिस ने उन सभी को तुगलक रोड से हिरासत में ले लिया और पार्लियामेंट थाने ले गए. इसके करीब तीन घंटे बाद पुलिस ने सभी को रिहा कर दिया.

इस मामले में दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट कमिश्नर एमके मीणा ने बताया, 'अगर कोई कोई भी नियमों का उल्लंघन करेगा तो पुलिस उस पर कार्रवाई करेगी. ऐसी जानकारी मिली है कि ये लोग दोबारा पीएम आवास की ओर जाने का प्रयास कर सकते हैं. इसलिए इन्हें हिरासत में लिया गया है.'

वहीं, आप के इस विरोध प्रदर्शन पर गृह राज्य मंत्री किरन रिजिजू ने कहा, 'दिल्ली की जनता ने केजरीवाल सरकार को पूर्ण बहुमत दिया है. जबकि केजरीवाल दिल्ली की जनता की सेवा करने के बजाए ड्रामा कर रहे हैं.'

गौरतलब है कि सिसोदिया के पीएम आवास पर सरेंडर करने के पीछे पूरा विवाद यह है कि कल उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया दिल्ली के गाजीपुर मंडी थे.

वहां उन पर आरोप लगा है कि वह व्यापारियों को धमका रहे थे. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री रोजमर्रा के दौरे की तरह कल गाजीपुर मंडी पहुंचे थे. वहां पर कुछ आढ़तियों ने उनके सामने अपनी कुछ शिकायते रखीं. जिसके बाद मनीष सिसोदिया गुस्से में आ गए और उन्होंने आढ़तियों को कथित तौर पर बुरा-भला कहा.

इसके बाद गाज़ीपुर मंडी के प्रधान सुरेंद्र गोस्वामी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चिट्ठी लिखकर इस मामले में अपनी शिकायत दर्ज कराई.

उस शिकायती पत्र में लिखा था, ‘हमारी आपसे प्रार्थना है कि श्री मनीष सिसोदिया जो कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री हैं. वो हमारे साथ कोई भी गलत व्यवहार करवा सकते हैं. हमारे लिए ये चिंता का विषय है. हमारी चिंता को दूर करते हुए उनके खिलाफ आप कार्यवाही करने की कृपा करें.’

First published: 26 June 2016, 16:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी