Home » इंडिया » Amarnath Yatra stopped after advisory pilgrims returning from Jammu Kashmir
 

अमरनाथ यात्रा पर लगा ब्रेक, एडवाइजरी जारी होने के बाद लौटने लगे तीर्थयात्री

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 August 2019, 21:45 IST

जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले के खतरे को देखते हुए अमरनाथ यात्रा पर ब्रेक लगा दिया गया है. जम्मू-कश्मीर के गृह सचिव ने अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों के लिए एडवाइजरी जारी की है. जिसमें कहा गया है कि तीर्थ यात्री और पर्यटक जल्द घाटी छोड़ दें. वहीं एडवाइजरी जारी होने के बाद अमरनाथ यात्रियों ने घाटी को छोड़ना शुरु कर दिया है.

जानकारी के मुताबिक, अमरनाथ यात्रियों को वापस लौटने के बारे में एडवाइजरी जारी की गई तब कुछ यात्री रास्ते के बीच में थे, जबकि कुछ स्टेशन के आसपास थे. लेकिन एडवाइजरी के बार यात्रियों ने अपने ठिकानों पर लौटना शुरु कर दिया है. बता दें कि सुरक्षा बलों को अमरनाथ यात्रा के रूट पर सर्च ऑपरेशन के दौरान स्नाइपर राइफल मिली, जिसके बाद यात्रा को रोकने का फैसला किया गयाआतंकी खतरे की संभावना के चलते शासन ने तुरंत एडवाइजरी जारी कर अमरनाथ यात्रियों को वापस लौटने को कहा. उसके बाद यात्रियों ने बीच में ही अपनी यात्रा समाप्त कर दी और घाटी से वापस लौटना शुरु कर दिया.

बता दें कि जम्मू कश्मीर के गृहसचिव ने एडवाइजरी में लिखा है कि, आतंकी खतरे, खासतौर पर अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाने के खतरे पर खुफिया विभाग के ताजा इनपुट और कश्मीर घाटी के सुरक्षा हालात को ध्यान में रखते हुए अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों के हित में ये सलाह दी जाती है कि वो तुरंत घाटी में अपने ठहराव को छोटा करें और जितना जल्द हो सके वापस लौटने के उपाय करें.

बता दें कि वैसे अमरनाथ यात्रा 15 अगस्त को समाप्त होनी थी, लेकिन इस एडवाइजरी का मतलब है कि इसे अनौपचारिक तौर पर रोक दिया गया है. इससे पहले सीआरपीएफ, जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना ने श्रीनगर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ये दावा किया कि अमरनाथ यात्रियों पर स्नाइपर से हमले की कोशिश को सुरक्षाबलों ने पूरी तरह नाकाम कर दिया है.

अयोध्या में राम मंदिर मुद्दे पर 6 अगस्‍त से सुप्रीम कोर्ट में रोज होगी सुनवाई

First published: 3 August 2019, 8:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी