Home » इंडिया » Amit Shah has winning formula for Modi government in Loksabha Election 2019 tells in BJP National Executive Meeting
 

अमित शाह के इस फॉर्मूले से नरेंद्र मोदी फिर संभालेंगे देश की सत्ता, BJP जीतेगी 2019 लोकसभा चुनाव !

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 September 2018, 9:00 IST

देश में अगले साल यानि 2019 में एक बार फिर लोकसभा चुनाव होने जा रहे हैं. इस चुनाव के लिए सारी पार्टियों ने तैयारी करनी शुरू कर दी है. इसी के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी ने चुनावी रणनीति पर चर्चा करने के लिए दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी मीटिंग रखी. इस मीटिंग के उद्घाटन भाषण को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने संबोधित किया. शाह ने संबोधन में बीजेपी के लिए लोकसभा चुनाव की जीत का फॉर्मूला बताया.

शाह ने कहा कि देश के 19 राज्यों में बीजेपी की सरकार है ऐसे में हम हम आसानी से वहां चुनाव जीत जाएंगे. इसके अलावा पश्चिम बंगाल, ओडिशा और तेलंगाना जैसे राज्यों में हम दूसरे नंबर पर हैं. इन राज्यों में बीजेपी को एंटी-इनकंबेसी का फायदा मिलेगा. वहीं आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में भी हम अच्छा प्रदर्शन करेंगे. साल 2019 का लोकसभा चुनाव मोदी सरकार की उपलब्धियों और हमारे संगठन की शक्ति के आधार पर लड़ा जाएगा.

 

बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले देश चार और राज्यों की विधानसभा चुनाव से गुजरेगा. इन राज्यों में तीन राज्यों राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी की सरकार है. इसे लेकर भी भाजपा पूरी तरह से तैयार है. अमित शाह ने अपने भाषण की शुरुआत करते हुए कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद देश की राजनीति में जो रिक्तता आई है, उसको भरना संभव नहीं है.

 

शाह ने अपने भाषण में केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लाई गई जन-कल्याणकारी योजनाओं के बारे में भी विस्तार से चर्चा की. उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से अर्थव्यवस्था को लेकर 'पी चिदंबरम एंड कंपनी' द्वारा फैलाई जा रही भ्रांतियों को तथ्यों के आधार पर चुनौती देने की बात कही. शाह ने कहा कि सभी कार्यकर्ता सरकार के कामों को जनता के सामने लेकर जाएं.

पढ़ें- अमेरिका की मदद से पाकिस्तान गुपचुप करना चाहता था ये काम, भारत ने दिया बड़ा झटका

अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जहां एक तरफ बीजेपी 'मेकिंग इंडिया' में लगी है, वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस 'ब्रेकिंग इंडिया' में लगी है. बैठक में एससी/एसटी एक्ट में संशोधन के मसले पर भ्रम की स्थिति से निपटने समेत अन्य मुद्दों पर भी चर्चा होगी. बता दें कि बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी के शीर्ष नेता लालकृष्ण आडवाणी, रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, वित्तमंत्री अरुण जेटली, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज समेत बीजेपी के अन्य दिग्गज मौजूद रहे.

First published: 9 September 2018, 8:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी