Home » इंडिया » Amit Shah's logic: Nobody can politicise surgical strikes, except BJP in UP
 

सिवाय भाजपा के सर्जिकल स्ट्राइक पर राजनीति करने का हक़ किसी दल को नहीं

सुहास मुंशी | Updated on: 9 October 2016, 7:48 IST
QUICK PILL
  • सर्जिकल स्ट्राइक होने पर भाजपा ने दावा किया था कि वह इसका राजनीतिकरण नहीं कर रही है. इस बात के लिए इतना ही सबूत काफी है कि 29 सितंबर को हुई प्रेस कांफ्रेंस में रक्षा मंत्री ने उनसे दूरी बनाए रखी.
  • मगर तमाम राजनीतिक बयानबाज़ियों के बीच भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने सेना की बहादुरी के गुणगान करते हुए यह भी कह दिया कि हम इसको लेके हम देश की जनता के बीच जाएंगे.

एक दिन में तीन प्रेस कॉन्फ्रेंस, दो बीजेपी की और एक कांग्रेस की और हर एक में एक ही दावा किया गया ‘भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक पर राजनीति नहीं करेंगे.’ हर पार्टी दूसरी को नीचा दिखाने की कोशिश करके खुद को और अधिक देशभक्त दिखाना चाहती है. साथ ही उत्तर प्रदेश के चुनावों का दबाव अलग.

हालांकि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अभी एक दिन पहले ही कहा कि उनकी पार्टी यूपी चुनाव में सर्जिकल स्ट्राइक को मुद्दा बनाएगी. पार्टी ने रक्षा मंत्री और यूपी से राज्यसभा सांसद मनोहर पर्रिकर के जरिये पहले ही इसकी शुरूआत कर दी है. बुधवार को आगरा में बीजेपी की एक रैली को संबोधित करते हुए पर्रिकर ने कहा, सैन्य कार्रवाई पूरी तरह एक सर्जिकल अभियान ही थी. ‘हमसे कई बड़े देश भी कई बार ऐसे सर्जिकल स्ट्राइक में इतने सफल नहीं होते जितने हम हुए हैं.’

और यह बखान तब किया जा रहा था जब एक दिन पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पार्टी के सदस्यों को सर्जिकल स्ट्राइक पर शेखी बघारने से मना किया था. इसके ठीक एक दिन बाद ही शाह ने रक्षा मंत्री का बचाव करते हुए कहा ‘उन्होंने कुछ गलत नहीं कहा है. वे सिर्फ कुछ बता रहे थे.’

साथ ही उन्होंने कहा पार्टी सर्जिकल स्ट्राइक का राजनीतिकरण नहीं कर रही है इस बात के लिए इतना ही सबूत काफी है कि रक्षा मंत्री ने उनसे दूरी बनाए रखी. सर्जिकल स्ट्राइक की घोषणा जिस प्रेस कॉन्फ्रेंस में की गई उसमें भी वे नहीं थे. वह प्रेस कॉन्फ्रेंस रक्षा मंत्री ने नहीं, डीजीएमओ ने बुलाई थी. हमने कभी स्ट्राइक का दावा ही नहीं किया.

यूपी चुनाव जीतने की भाजपा की उत्कंठा साफ झलक रही थी, क्योंकि सेना की बहादुरी के गुणगान करते हुए उन्होंने कहा, ‘इसको लेके हम देश की जनता के बीच जाएंगे.’

सर्जिकल स्ट्राइक को भुनाने में जुटी बीजेपी

बीजेपी दस दिन से ही लगातार सर्जिकल स्ट्राइक का राग अलाप रही है, जब से 29 सितमबर को सुबह इसे अंजाम दिया गया. एक चुनाव रैली में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने कार्यकर्ताओं को संकेत दिए कि इस ‘उपलब्धि’ को पार्टी के प्रदेश में चुनाव प्रचार में भुनाओ.

दरअसल पार्टी की असुरक्षा इसी बात से पता चल जाती है कि प्रेस कॉन्फ्रेंस के कुछ मिनट बाद ही उसने पार्टी अध्यक्ष के बचाव में वरिष्ठ नेता कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद को भेजा क्योंकि कांग्रेस ने उनकी खिंचाई शुरू कर दी थी.

इस सर्जिकल स्ट्राइक के असर पर सवाल उठाया जा सकता है कि कितने उग्रवादी इसमें मारे गए यह अभी तक साफ नहीं है और कश्मीर में सुरक्षा बलों पर हमले जारी हैं. स्ट्राइक के बाद से अब तक कश्मीर में हुए तीन हमलों में सात उग्रवादी मारे गए हैं सीमा सुरक्षा बल का भी एक जवान शहीद हुआ है.

सवाल करने पर देशभक्ति खतरे में

इतना ही नहीं, बीजेपी यूपी में सर्जिकल स्ट्राइक की मार्केटिंग कुछ इस कदर कर रही है कि वह हर जगह तो इस बारे में बात कर रही है और सारा श्रेय नरेंद्र मोदी को देते हुए कह रही है कि सेना कभी भी इतनी स्वतंत्र नहीं थी जितनी वह नरेंद्र मोदी की सरकार में है. और फिर यह भी मानकर चल रही है कि वह सैन्य कार्रवाई का राजनीतिक लाभ नहीं उठा रही.

अगर दूसरी पार्टियां बीजेपी के दावे का विरोध करती हैं तो बीजेपी उनकी देशभक्ति और सेना में विश्वास पर सवाल उठाती है. जैसा कि पार्टी अध्यक्ष शाह व अन्य नेताओं ने अरविंद केजरीवाल और राहुल गांधी के मामलों में किया.

रविशंकर प्रसाद जैसे नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में केजरीवाल को पाक का समर्थक बता दिया क्योंकि केेजरीवाल का वह बयान पाकिस्तानी अखबारों की सुर्खी बना हुआ था जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा था कि पाक को जवाब देने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत सार्वजनिक करे.

अमित शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं को यूपी में मोदी के नेतृत्व में सर्जिकल स्ट्राइक की मार्केटिंग करने के पर्चे बांटे, जिसमें कहा गया है कि मोदी के नेतृत्व में पहली बार हमारे सैनिकों ने स्वयं को स्वतंत्र महसूस किया और एलओसी क्रॉस करके आतंकियों को उन्हीं के इलाके में मार गिराया. देखते हैं पार्टी की राज्य में होने वाली परिवर्तन रैली में यह मुद्दा कितना प्रचारित किया जाता है.

First published: 9 October 2016, 7:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी