Home » इंडिया » amit shah: nehru responsible for kashmir problem
 

अमित शाह: कश्मीर समस्या जवाहर लाल नेहरू की देन

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:49 IST
(पीटीआई)

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कश्मीर समस्या के लिए देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू को जिम्मेदार ठहराया है.  अमित शाह ने बुधवार को कहा कि जवाहर लाल नेहरू के ‘ऐतिहासिक भूल’ की वजह से आज भी कश्मीर समस्या जिंदा है.

इसके अलावा शाह ने देश के विभाजन के लिए तत्कालीन कांग्रेस नेतृत्व यानी नेहरू की आलोचना की है.

अमित शाह ने कश्मीर मुद्दे पर सवाल उठाते हुए कहा कि 1948 में जब पाकिस्तान से आए कबाइली आक्रमणकारियों को कश्मीर से खदेड़ा जा रहा था, तो उस समय नेहरू को संघर्ष विराम की घोषणा नहीं करनी चाहिए थी.

शाह ने कहा कि यदि देश के पहले पीएम के द्वारा यह घोषणा नहीं की गई होती, तो आज हमारे सामने जम्मू-कश्मीर की समस्या नहीं होती.

शाह ने यह बातें नेहरू स्मृति संग्रहालय और पुस्तकालय में आयोजित एक समारोह के दौरान कहीं. शाह ने कहा, "अचानक ही बिना किसी कारण के, जो आज तक ज्ञात नहीं हो सका कि क्यों संघर्ष विराम की घोषणा कर दी गई."

अमित शाह ने आगे कहा, "देश के किसी भी नेता ने ऐसी ऐतिहासिक भूल नहीं की होगी. यदि जवाहरलाल जी ने उस समय संघर्ष विराम की घोषणा न की होती, तो हमारे सामने आज कश्मीर की समस्या होती ही नहीं."

अपने भाषण में शाह ने दावा किया कि यह फैसला नेहरू ने अपनी ‘छवि’ को सुधारने के लिए किया था. उन्होंने इस बात पर भी दुख जताया कि इस फैसले की वजह से आज कश्मीर का एक हिस्सा पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के पास है. 

इस समारोह का आयोजन भारतीय जन संघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की याद में किया गया था.

First published: 29 June 2016, 5:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी