Home » इंडिया » Amit Shah says it is essential to have single language that can be India’s identity
 

हिंदी दिवस: गृह मंत्री अमित शाह ने देशवासियों से की ये बड़ी अपील

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 September 2019, 12:19 IST

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को कहा कि वैश्विक स्तर पर भारत की पहचान के लिए पूरे देश के लिए एक भाषा बेहद महत्वपूर्ण है. अमित शाह ने हिंदी दिवस के अवसर पर एक ट्वीट में यह टिप्पणी की है. शाह ने ट्वीट किया ''भारत विभिन्न भाषाओं का देश है और हर भाषा का अपना महत्व है परन्तु पूरे देश की एक भाषा होना अत्यंत आवश्यक है जो विश्व में भारत की पहचान बने. आज देश को एकता की डोर में बाँधने का काम अगर कोई एक भाषा कर सकती है तो वो सर्वाधिक बोले जाने वाली हिंदी भाषा ही है.''

 

शाह ने सभी नागरिकों से अपनी मातृभाषा के उपयोग को बढ़ावा देने और महात्मा गांधी और सरदार वल्लभभाई पटेल के सपनों को पूरा करने के लिए हिंदी का उपयोग करने का आग्रह किया. 14 सितंबर हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है. 1949 में इस दिन संविधान सभा ने हिंदी को भारत की आधिकारिक भाषा के रूप में अपनाया था. 2011 की जनगणना के अनुसार 43.6% या लगभग 53 करोड़ भारतीयों की मातृभाषा हिंदी है. इसके बाद बंगाली है, जो 8.03% से बहुत पीछे है. विश्व स्तर पर यह दुनिया की चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है.

भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का था शक, फिर भी मोदी सरकार ने काली सूची से हटाया नाम

First published: 14 September 2019, 12:19 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी