Home » इंडिया » Amit Shah: Uttar Pradesh will vote for change peole will elect BJP
 

अमित शाह बोले- सपा से सीधी टक्कर, याद रखना डिब्बे खुलेंगे तो भाजपा ही जीतेगी

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 August 2016, 10:34 IST
(फाइल फोटो)

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि यूपी की जनता ने बदलाव का मन बना लिया है. एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू के दौरान शाह ने अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा की जीत का दावा किया.

अंग्रेजी अखबार इकनॉमिक टाइम्स को दिए इंटरव्यू में अमित शाह ने कहा, "उत्तर प्रदेश में चुनावी मुकाबला सिर्फ समाजवादी पार्टी और भाजपा के बीच होगा."

अंग्रेजी अखबर को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि वो जीत को लेकर पूरी तरह आश्वस्त हैं. यही नहीं, उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि दलित मुद्दे के पीछे राजनीतिक साजिश है.

'वोटरों की पसंद बीजेपी'

अमित शाह ने कहा, "उत्तर प्रदेश में बदलाव के लिए वोट डाले जाएंगे. वोटरों की पसंद बीजेपी होगी. जनता ने परिवर्तन का मन बनाया है और जब डिब्बे खुलेंगे आप इसे याद रखना."

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इस बात से इनकार किया कि उनकी पार्टी बीएसपी को कमजोर कर रही है. बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कारण पार्टी यूपी में वोटरों के बीच बदलाव का संदेश लेकर जाएगी. मेरी पार्टी का मूल सिद्धांत अंत्योदय है. जब अंतिम का उदय करोगे तो देश का उदय होगा." 

सीएम उम्मीदवार पर फैसला नहीं

यूपी में मुख्यमंत्री उम्मीदवार के सवाल पर बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि इस बारे में अब तक कोई फैसला नहीं हुआ है.

शाह ने कहा कि यूपी को लेकर उनकी रणनीति इस भरोसे पर आधारित है कि अगर राज्य में बदलाव होता है तो भारत आसानी से डबल डिजिट ग्रोथ का लक्ष्य हासिल कर सकता है. 

इकनॉमिक टाइम्स ने जब शाह से सवाल पूछा कि यूपी में भाजपा बड़े अंतर से कैसे जीतेगी तो शाह ने कहा, " कल्याण सिंह और राजनाथ सिंह के बाद यूपी में ऐसी कोई सरकार नहीं रही, जिसने विकास पर फोकस किया. पिछले 15 साल से सपा और बसपा का शासन है और जनता दोनों पार्टियों से थक चुकी है."

'आनंदीबेन से अच्छे रिश्ते'

अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में अमित शाह ने गुजरात में दलितों के विरोध-प्रदर्शन पर भी प्रतिक्रिया दी. शाह ने कहा कि यह राजनीति से प्रेरित है.

यूनिवर्सिटी आंदोलनों पर शाह ने कहा, "विश्वविद्यालयों में युवा लोग आंदोलन करते हैं और इसे अक्सर काफी बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया जाता है." शाह ने इस बात से इनकार किया कि आनंदीबेन पटेल को गुजरात सीएम पद से हटाया गया. उन्होंने कहा, "मेरे आनंदीबेन के साथ बहुत अच्छे रिश्ते हैं."

कश्मीर घाटी में मौजूदा हालात से निपटने के मुद्दे पर शाह ने कहा, "अगर आप कश्मीर पर महबूबा मुफ्ती के बयान को सुनेंगे, तो आप पाएंगे कि उनकी लाइन वही है, जो दूसरी राजनीतिक पार्टियों की है."

वहीं यह पूछे जाने पर देश का दूसरा सबसे पावरफुल शख्स होने पर वह कैसा महसूस करते हैं, शाह ने कहा, "इस देश में पहला पावरफुल शख्स ही कोई नहीं है. प्रधानमंत्री खुद को प्रधान सेवक कहते हैं, तो दूसरे का कोई सवाल नहीं उठता."

First published: 26 August 2016, 10:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी