Home » इंडिया » Amrapali scam: MS Dhoni problems may increase
 

आम्रपाली घोटाला: बढ़ सकती है धोनी की मुश्किलें, बतौर मुलजिम नाम दर्ज करने की मांग

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 December 2019, 10:44 IST

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी(MS Dhoni) की मुसीबतें बढ़ती नजर आ रही हैं. दरअसल, आम्रपाली ग्रुप (Amrapali Group) के कथित रूप से अरबों रुपये के घोटाले के मामले में बिल्डर के खिलाफ दर्ज FIR में शिकायतकर्ता ने महेंद्र सिंह धोनी का नाम बतौर मुलजिम दर्ज करने की मांग की है. 27 नवंबर, 2019 को दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा द्वारा दर्ज की गई FIR में इसका साफ-साफ जिक्र है.

FIR में आम्रपाली ग्रुप, उसके कर्ता-धर्ता अनिल कुमार शर्मा, शिव प्रिया, मोहित गुप्ता आदि को मुलजिम के तौर पर शामिल किया गया है. इस FIR में शिकायतकर्ता रूपेश कुमार सिंह हैं. FIR नंबर 265 को IPC की धारा 406/409/420/120बी के तहत दर्ज किया गया है.

FIR के अनुसार, "ग्राहकों को लुभावने सपने दिखाकर अरबों रुपये डकार जाने वाले आम्रपाली बिल्डर ने धोनी का भी खुलकर इस्तेमाल किया. उन्हें आम्रपाली ग्रुप का ब्रांड एम्बेसडर सिर्फ इसलिए बनाया गया, ताकि लोग धोनी के नाम पर आसानी से झांसे में आएं और अपने खून-पसीने की गाढ़ी कमाई इस प्रोजेक्ट में स्वाहा कर सकें."

FIR में लिखा है कि आम्रपाली ग्रुप ने करीब 2 हजार 647 करोड़ रुपये अपने विभिन्न प्रोजेक्ट्स/टॉवर्स के नाम पर अनजान ग्राहकों से वसूले. इतनी भारी-भरकम रकम को फिर इधर-उधर लगा दिया, वहीं प्रोजेक्ट आज भी अधूरे पड़े हैं. शिकायतकर्ता ने माना कि उन्होंने आम्रपाली द्वारा किए गए इस घोटाले में FIR दर्ज कराई है. जांच अभी पुलिस कर रही है.

शिकायतकर्ता के मुताबिक, "सुप्रीम कोर्ट ने भी इस बात को साफ कर दिया है कि आरोपियों ने इन प्रोजेक्ट्स को लांच ही, अनजान लोगों को गुमराह करके ठगने के लिए किया था. जैसा कि उन्हीं सब में से एक मैं खुद भी हूं. आम्रपाली बिल्डर मेरे जैसे हजारों लोगों से 90 फीसदी तक रकम वसूल चुका है. इसके बावजूद मगर फ्लैटों का कोई अता-पता नहीं हैं."

गाजियाबाद में भयावह वारदात, दो बीवियों संग आठवीं मंजिल से कूदा शख्स, दो बच्चों के भी मिले शव

BPCL और एयर इंडिया की बिक्री के विरोध में RSS का आर्थिक थिंकटैंक स्वदेशी जागरण मंच

First published: 3 December 2019, 10:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी