Home » इंडिया » Amritsar Train Accident Could repeat at Chhath festival in punjab
 

छठ पर्व पर हो सकता था अमृतसर जैसा बड़ा हादसा! रेलवे ट्रैक पर खड़े होकर पूजा करते रहे सैंकड़ों लोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 November 2018, 15:04 IST

देश में दशहरे के मौके पर हुए अमृतसर के दर्दनाक हादसे से भी लोगों ने कोई सीख नहीं ली है. त्योहारों पर लोगों का उत्साह और आस्था बुद्धि विवेक पर भारी पड़ता दिखता है लेकिन इतना भी लापरवाह नहीं होना चाहिए कि जान पर बन आए. अमृतसर में हुए दर्दनाक हादसे जैसा ही एक हादसा छठ पर्व पर भी दोहरा सकता था. ताजा मामला बठिंडा का है जहां पर मंगलवार को छठ पूजा के दौरान सैकड़ों लोग फिर रेलवे ट्रैक पर जमा होकर पूजा करते नजर आए.

 बठिंडा में सरहिंद नहर के किनारे बने रेलवे ट्रैक पर मंगलवार की शाम लोग छठ पूजा करने में इतने व्यस्त थे की उन्होंने इस बात का ध्यान ही नहीं दिया की वे रेलवे ट्रैक के ऊपर खड़े होकर सरे साजो-सामान के साथ पूजा आकर रहे हैं. ये तो गनीमत रही कि इस दौरान कोई ट्रेन वहां से नहीं गुजरी वरना अमृतसर जैसा हादसा दोबारा हो सकता था. इस दौरान सैकड़ों महिलाएं, बच्चे और पुरुष छठ पर्व की पूजा के लिए इक्कट्ठे थे. सैकड़ों लोग रेलवे ट्रैक के ऊपर से लगातार आ-जा रहे थे. इस दौरान रेलवे ट्रैक के ऊपर लोगों का हुजूम उमड़ा हुआ था.

Video: रावण बन आकर आई ट्रेन ने कुचल दीं सैकड़ों जानें, पटरी से 150 मीटर दूर तक बिखर गए शव के टुकड़े

इस मौके पर रेलवे और पुलिस लोहगों को ट्रैक पर से हटने के लिए बार-बार अनाउंसमेंट कर रहे थे. लोगों को रेलवे ट्रैक से हटने को कहा जा रहा था लेकिन वे किसी की नहीं सुन रहे थे. पुलिस ने बताया कि जिस ट्रैक पर लोग गुजर रहे थे वह काफी व्यस्त ट्रैक है और वहां तकरीबन हर रोज एक दर्जन से ज्यादा ट्रेनें गुजरती हैं.

रेलवे ट्रैक पर सैकड़ों भक्त की भीड़ देखकर पुलिस और रेलवे ने वहां सुरक्षा के इंतजाम बढ़ाए. बठिंडा जीआरपी एसएचओ हरजिंदर सिंह ने कहा कि हम लोगों ने लोगों को रेलवे ट्रैक से हटाने की बहुत कोशिश की लेकिन वे नहीं हटे. ऐसे में कोई बड़ा हादसा हो जाता तो लोग एक बार प्रशासन और पुलिस पर कठघरे में खड़ा कर देते. पर एक बार ये भी सोचना चाहिए की लोगों को खुद से इतना तो ध्यान देना चाहिए कि वो रेलवे ट्रैक पर लापरवाही से खड़े होकर अपनी ही जान से खिलवाड़ कर रहे है.

First published: 15 November 2018, 15:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी