Home » इंडिया » Andhra Pradesh: Chandrababu Naidu govt spends 10 crore rupees for 12 hour protest in Delhi
 

मोदी सरकार के खिलाफ चंद्रबाबू नायडू का अनशन, 12 घंटे के उपवास में खर्च कर दिए 10 करोड़ रुपये

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 February 2019, 13:14 IST

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने विशेष राज्य के दर्जे की मांग को लेकर राजधानी दिल्ली में 11 फरवरी को मोदी सरकार के खिलाफ 12 घंटे का उपवास किया था. अब यह बात सामने आई है कि नायडू सरकार ने इस 12 घंटे के उपवास में 10 करोड़ रुपये खर्च कर दिए. इस बाबत राज्य सरकार ने 6 फरवरी को खर्च का ब्यौरा जारी किया था.

रिपोर्ट के अनुसार, आंध्र प्रदेश की टीडीपी सरकार ने प्रदर्शनकारियों के लिए श्रीकाकुलम और अनंतपुर से दिल्ली तक दो ट्रेनें बुक की थीं. सरकार ने इन दो ट्रेनों के लिए एक करोड़ 12 लाख रुपये खर्च किये. जो प्रेस रिलीज जारी किया गया था उसमें लिखा है,"आंध्र प्रदेश सरकार ने 20 कम्पार्टमेंट वाले 2 स्पेशल ट्रेनों को हायर करने का फैसला किया है. इनमें से एक अनंपुरम और दूसरी श्रीककुलम से नई दिल्ली तक जाएंगी. इस ट्रेन में मुख्यमंत्री के एक दिन की दीक्षा में शामिल होने की इच्छुक राजनीतिक पार्टियां, एनजीओ आदि के कार्यकर्ता दिल्ली जाएंगे."

इसके अलावा, प्रदर्शन में शामिल होने पहुंचे वीआईपी मेहमानों के रहने और खाने की व्यवस्था भी सरकार की तरफ से की गई थी. जिसके लिए सरकार ने दिल्ली के होटलों में 1100 कमरे बुक कराए थे. प्रेस रिलीज के मुताबिक, 8 करोड़ रुपये अन्य राज्यों में होने वाले फंक्शन के नाम पर निकाले गए थे और 2 करोड़ रुपये सीएम नायडू के प्रदर्शन के लिए निकाले गए थे.

रिलीज में बताया गया था कि जो 2 करोड़ रुपये निकाले गए, उसमें सामान्य प्रशासन विभाग की तरफ से 1.12 करोड़, 10 लाख और 1.3 लाख के तीन बिल जमा किए गए. वहीं 77 लाख रुपये का बिल अभी जारी नहीं किया गया है.

गौरतलब है कि 11 फरवरी दिल्ली में आंध्र भवन के बाहर नायडू सुबह 8 बजे से ही धरने और भूख हड़ताल पर बैठे गए थे. इस दौरान उन्होंने पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला था. नायडू ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा था कि उन्होंने राजधर्म का पालन नहीं किया. उन्होंने आरोप लगाया था कि केंद्र ने आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा देने वादा पुनर्गठन अधिनियम 2014 के तहत किया था,  लेकिन इसे पूरा नहीं किया.

First published: 13 February 2019, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी