Home » इंडिया » Anil Ambani Reliance company contract cancel by jammu governor satyapal malik
 

रिलायंस ग्रुप को लगा बड़ा सरकारी झटका, फर्जीवाड़े के चलते रद्द किया गया कंपनी का कॉन्ट्रैक्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 October 2018, 10:41 IST

रिलायंस कंपनी को बड़ा सरकारी झटका झेलना पड़ा है. अनिल अंबानी के रिलायंस ग्रुप की एक कंपनी को प्राप्त ग्रुप मेडिकल इंश्योरेंस का कॉन्ट्रैक्ट जम्मू कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल मलिक ने रद्द कर दिया है. राफेल विमान डील को लेकर चर्चा में बनी हुई रिलाइंस कंपनी के लिए ये बड़ा झटका है. राफेल मुद्दे पर चल रहे विवाद के बीच ही जम्मू कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल मलिक का रिलायंस के खिलाफ उठाया गया ये कदम काफी चर्चा में हैं.

इस मामले में गवर्नर मलिक के अनुसार, टेंडर्स के आवंटन में फर्जीवाड़ा किया गया था. इस मामले में गवर्नर मलिक ने द इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा, ''हम इसकी जांच कर रहे हैं. इसके लिए टेंडर किसी अन्य कंपनी ने मंगवाया था, सरकार ने नहीं. हम यह मामला विजिलेंस को सौंप रहे हैं. इसमें जो भी शामिल हो, फिर चाहे कोई अधिकारी या बिजनेसमैन, बख्शा नहीं जाएगा.''

गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर में बतौर गवर्नर सत्यपाल मलिक 20 सितंबर को कार्यभार संभाला है. मलिक के पद पर आने के बाद राज्य के साढ़े 3 लाख नियमित कर्मचारियों को इंश्योरेंस क सेवा देने के लिए रिलायंस जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड को कॉन्ट्रैक्ट दिया गया था.

'राफेल की जांच शुरू हुई तो ख़त्म हो जाएंगे PM मोदी'

इस इंश्योरेंस के लिए कर्मचारियों और पेंशनधारकों को क्रमश: 8777 रुपये और 22229 रुपये का सालाना प्रीमियम देना था. ये बीमा सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए अनिवार्य था. गवर्नर ऑफिस के सूत्रों की मानें तो इस बीमा के लिए सरकार की ओर से ट्रिनिटी ग्रुप ने टेंडर निकाले थे. टेंडर में हुए फर्जीवाड़े को लेकर एक सूत्र ने नाम सार्वजनिक न किए जाने की शर्त पर बताया, ''रिलायंस जनरल इंश्योरेंस कंपनी को मौका देने के लिए शर्तों में बदलाव किए गए.''

वहीं इस मामले में वित्त सचिव नवीन चौधरी ने भी द इंडियन एक्सप्रेस से बात की और कहा, ''शिकायतों के निस्तारण और ट्रांजेक्शन अडवाइजर के लिए ट्रिनिटी ग्रुप का चुनाव बोली की प्रक्रिया के जरिए हुआ था. किसी चूक से बचने के लिए यह एक मानक प्रक्रिया है क्योंकि सरकारी अफसरों को इंश्योरेंस से जुड़े मुद्दों की समुचित विशेषज्ञता नहीं है.''

First published: 26 October 2018, 9:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी