Home » इंडिया » Anil Ambani says, Telecom sector is destroying day by day
 

अनिल अंबानी: टेलीकॉम सेक्टर का हो रहा सृजनात्मक विनाश

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 September 2017, 13:13 IST

रिलायंस समूह के चेयरमैन अनिल अंबानी ने कहा है कि दूरसंचार क्षेत्र संकट में है और बैंक कर्ज़ नहीं दे रहे हैं. रिलायंस कम्यूनिकेशंस (आरकॉम) की सालाना सभा में बोलते हुए उन्होंने कहा, "भारतीय रिजर्व बैंक ने अप्रैल में सभी बैंकों से दूरसंचार पर सचेत रहने को कहा था. अब बैंक कोई ऋण नहीं दे रहे हैं."

अनिल अंबानी का यह बयान ऐसे मौक़े पर आया है जब आर्थिक मोर्चे पर देश भीषण संकट का सामना कर रहा है. निजी निवेश दो दशकों के सबसे बुरे दौर में है. औद्योगिक उत्पादन ढह गया है, निर्माण और कृषि के क्षेत्र में तनाव की स्थिति बनी हुई है. अलग-अलग सेक्टर से हर दिन परेशान करने वाली ख़बरें आ रही हैं और अब टेलीकॉम सेक्टर के बारे में अनिल अंबानी के बयान ने तनाव और बढ़ा दिया है.

उन्होंने कहा, "इस सेक्टर ने दिवंगत धीरूभाई अंबानी के दृष्टिकोण के अनुसार देश को रूपांतरित किया है. इस सेक्टर ने एक अरब लोगों को मोबाइल सुविधा प्रदान की है, जिसमें एक मात्र विजेता उपभोक्ता हैं. मगर आज प्रतिस्पर्धा के स्वरूप में बहुत गिरावट आई है, जिस कारण कुछ विदेशी ऑपरेटरों ने देश छोड़ दिया है."

उन्होंने यह भी कहा, "पिछले वर्ष के दौरान एक के बाद एक ऑपरेटर को मूल्य क्षरण का सामना करना पड़ा और उन्हें भारी नुकसान हुआ. मैं इसे एक सेक्टर का सृजनात्मक विनाश कहता हूं."

अनिल अंबानी ने कहा कि दूरसंचार क्षेत्र को खर्च के लिए और सेवा की गुणवत्ता बनाए रखने के लिए साल में न्यूनतम 100,000 करोड़ रुपये की जरूरत है. दूरसंचार क्षेत्र एक एकाधिकार, अल्पाधिकार की ओर बढ़ रहा है. क्या उपभोक्ता यही चाहते हैं? जहां तक आरकॉम का सवाल है, हमारे पास एक परिवर्तन कार्यक्रम है और वह चल रहा है.

First published: 27 September 2017, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी