Home » इंडिया » Anna Hazare attacks modi govt for not fulfilling its pre-poll promises in loksabha election 2014
 

अन्ना हजारे: देश में सरकार नहीं बची है, सभी सत्ता से पैसा और पैसा से सत्ता बना रहे हैं

न्यूज एजेंसी | Updated on: 7 February 2018, 11:22 IST

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने मध्यप्रदेश के जबलपुर में मंगलवार को हुंकार भरी. अन्ना ने मोदी सरकार को जमकर निशाने पर लिया. उन्होंने कहा कि देश में कोई चीज नहीं रह गई है. सत्ता में आने से पहले वर्तमान सरकार ने जो वादे 30 दिन में पूरा करने को कहे थे, वे तीन साल बाद भी पूरे नहीं हुए हैं.

मध्यप्रदेश के जबलपुर पहुंचे अन्ना ने संवाददाताओं से कहा, "देश में सरकार नहीं रह गई है. सत्ता से पैसा और पैसा से सत्ता कमाने में सभी राजनीतिक पार्टियां जुटी हैं." 

भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने आगे कहा, "मोदी सरकार ने तीन साल पहले देश की जनता को बड़े-बड़े सपने दिखाए थे. 30 दिन में काला धन भारत लाने की बात कही थी, 15-15 लाख रुपये हर शख्स के खाते में आने की बात कही थी, लेकिन आज तक 15 लाख तो क्या, 15 रुपये भी लोगों के खाते में नहीं पहुंचे."

मोदी सरकार पर वादाखिलाफी के आरोप लगाते हुए कहा, "वर्तमान सरकार ने सत्ता में आने से पहले जो वादे किए थे, वे अब तक पूरे नहीं हुए हैं. यही वजह है कि मैं सरकार को घेरने के लिए 23 मार्च से आंदोलन करने जा रहा हूं. इसके लिए पूरे देश में जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है और आंदोलन से जुड़ने के लिए लोगों से अपील की जा रही है."

अन्ना ने कहा कि 23 मार्च से दिल्ली में शुरू होने वाले इस आंदोलन के जरिए किसानों की दशा सुधारने और लोकपाल विधेयक लाने की मांग उठाई जाएगी. सरकार को मजबूर किया जाएगा कि वह किसान हित में फैसले ले और लोकपाल विधेयक लाए.

अन्ना ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और किरण बेदी समेत अन्य लोगों का नाम लिए बिना कहा, "मैं नहीं जानता कि किस के मन में क्या है, लेकिन अब मैं सावधान हो गया हूं और अपने इस आंदोलन में अब जिन लोगों को जोड़ रहा हूं, उनसे शपथपत्र ले रहा हूं और यदि किसी ने शपथपत्र के खिलाफ जाकर सत्ता में जाने का मन बनाया, तो उसके खिलाफ कोर्ट में जाऊंगा."

First published: 7 February 2018, 11:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी