Home » इंडिया » Anna hazare will begin an indefinite fast in ramlila maidan delhi
 

किसानों की मांग को लेकर एक बार फिर भूख हड़ताल पर अन्ना हजारे

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 March 2018, 10:30 IST

दिल्ली के रामलीला मैदान पर समाजसेवी अन्ना हजारे आज (23 मार्च) से अनशन करने जा रहे हैं. वह 7 साल बाद एकबार फिर अनिश्चितकालीन धरना करेंगे. अन्ना देश भर के किसानों की तमाम समस्याओं के साथ जनलोकपाल की मांग को लेकर धरने पर बैठ रहे हैं.

आज (23 मार्च) सुबह राजघाट पर बापू को श्रद्धांजलि देकर वह किसानों के साथ मार्च करते हुए शहीद पार्क से रामलीला मैदान तक जाएंगे. जिसके बाद दोपहर 12 बजे के करीब रामलीला मैदान पहुंचकर वह अपना अनशन शुरू करेंगे. अभी वह महाराष्ट्र सदन में ठहरे हैं.

अन्ना हजारे ने ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, प्रदर्शन के लिए दिल्ली आ रहे लोगों की ट्रेनें रद्द की जा रही है. उन्होंने कहा कि क्या सरकार हिंसा को बढ़ावा देना चाहती है. मेरे लिए पुलिस बल तैनात किया गया है जबकि मैंने कई बार पत्र लिख कर कहा था कि मुझे पुलिस प्रोटेक्शन की जरूरत नहीं हैं, आपकी पुलिस हमें नहीं बचा सकती है. सरकार को ऐसा धूर्त रवैया नहीं अपनाना चाहिए.

गौरतलब है कि अन्ना आंदोलन लंबे समय से किसान आंदोलन को लेकर देशभर में भ्रमण कर रहे थे. वह किसानों के न्यूनतम मूल्य, फिक्स आमदनी की वकालत की बात कर रहे हैं.

इस अनशन में अन्ना के पुराने सहयोगी योगेंद्र यादव, प्रशांत भूषण, शांति भूषण और कुमार विश्वास भी रामलीला मैदान पहुंच सकते हैं. हालांकि उन्होंने बताया कि किसी भी विवाद से दूर रहने के लिए इस बार राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों का मंचों पर स्वागत नहीं किया जाएगा.

अन्ना हजारे ने ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, प्रदर्शन के लिए दिल्ली आ रहे लोगों की ट्रेनें रद्द की जा रही है. उन्होंने कहा कि क्या सरकार हिंसा को बढ़ावा देना चाहती है. मेरे लिए पुलिस बल तैनात किया गया है जबकि मैंने कई बार पत्र लिख कर कहा था कि मुझे पुलिस प्रोटेक्शन की जरूरत नहीं हैं, आपकी पुलिस हमें नहीं बचा सकती है. सरकार को ऐसा धूर्त रवैया नहीं अपनाना चाहिए.

 

गौरतलब है कि अन्ना आंदोलन लंबे समय से किसान आंदोलन को लेकर देशभर में भ्रमण कर रहे थे. वह किसानों के न्यूनतम मूल्य, फिक्स आमदनी की वकालत की बात कर रहे हैं.

पढ़ें- देश के 50 शहरों में शुरु होगी मेट्रो, जानिए कौन-कौन से शहर हुए शामिल

इस अनशन में अन्ना के पुराने सहयोगी योगेंद्र यादव, प्रशांत भूषण, शांति भूषण और कुमार विश्वास भी रामलीला मैदान पहुंच सकते हैं. हालांकि उन्होंने बताया कि किसी भी विवाद से दूर रहने के लिए इस बार राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों का मंचों पर स्वागत नहीं किया जाएगा.

First published: 23 March 2018, 10:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी