Home » इंडिया » Another controversial statement of Swaroopanand Saraswati against Sai
 

अब शंकराचार्य स्वरूपानंद ने साईं को बताया असुर

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:50 IST

द्वारका-शारदा पीठ के शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती के विवादित बयानों को सिलसिला जारी है. एक बार फिर स्वरूपानंद ने साईं के खिलाफ आपत्तिजनक बयान दिया है.

शंकराचार्य ने इस बार साईं की तुलना असुर से कर डाली. स्वरूपानंद का कहना है कि जिस तरह से असुर श्रीकृष्ण को मारने के लिए बछड़ा बनकर आए थे उसी तरह से लोग साईं की मूर्ति मंदिर में पूजा के लिए ला रहे हैं.

पढ़ें:शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती: बुद्ध ने ऐसा कुछ नहीं दिया है भारत को

सूखे के लिए साईं पूजा को बताया था जिम्मेदार

शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने इससे पहले भी साईं को लेकर विवादित बयान दिए हैं. शंकराचार्य ने कुछ दिन पहले ही महाराष्ट्र में सूखे के लिए साईं को जिम्मेदार बताया था.

शंकराचार्य ने कहा था कि जो पूजा करने लायक नहीं हैं और जब उनकी पूजा होती है तो आपदा आना तय है. साथ ही स्वरूपानंद ने हिंदू समाज को मंदिरों में साईं की मूर्ति की स्थापना ना करने की सलाह दी थी.

पढ़ें:शंकराचार्य: महाराष्ट्र में सूखे की वजह है साईं पूजा

वहीं शंकराचार्य स्वरूपानंद ने भूमाता रणरागिनी ब्रिगेड की तृप्ति देसाई पर भी हमला किया. शंकराचार्य ने कहा कि वो महिलाओं को भड़काना चाहती हैं. साथ ही विरोध से तृप्ति देसाई को प्रसिद्धि और ताकत मिल रही है.

शनि मंदिर में प्रवेश विवाद पर शंकराचार्य ने कहा कि शनि मंदिर से महिलाओं का दूर रहना ही सही होता है. इससे पहले भी महिलाओं के शनि पूजा को लेकर शंकराचार्य़ ने बयान दिया था.

पढ़ें:स्वरूपानंद सरस्वती: एक अप्रासंगिक नारी विरोधी शंकराचार्य


First published: 15 April 2016, 12:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी