Home » इंडिया » Apollo Hospital bill shows Jayalalithaa’s stay cost Rs 6.86 crore, Rs 44 lakh still pending
 

खुलासा: Apollo अस्पताल ने जांच समिति को सौंपा जयललिता के इलाज का बिल, इतने करोड़ हुए खर्च

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 December 2018, 16:05 IST

अपोलो अस्पताल द्वारा एक जांच आयोग को दिए गए दस्तावेज के मुताबिक चेन्नई के अपोलो अस्पताल में तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता के इलाज की लागत 6.86 करोड़ रुपये है, जिनमें से 44 लाख रुपये अभी भी अस्पताल को भुगतान नहीं किये गए हैं. जयललिता को 22 सितंबर 2016 को डिहाइड्रेशन के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था और  5 दिसंबर को कार्डियक अरेस्ट से उनकी मृत्यु हो गई थी.

एक सेवानिवृत्त मद्रास उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति ए अरुमुघस्वामी के नेतृत्व में एक जांच आयोग जयललिता की मौत की परिस्थितियों की जांच कर रहा है. पैनल द्वारा 24 फरवरी को अपनी रिपोर्ट जमा करने की उम्मीद है. अस्पताल द्वारा प्रस्तुत एक बिल से मिली जानकारी के मुताबिक जयललिता की पार्टी ने जून 2017 में 6 करोड़ रुपये का बिल तय किया था. जबकि 13 अक्टूबर, 2016 को 41 लाख रुपये का एक और भुगतान किया गया था, लेकिन भुगतान के स्रोत का उल्लेख नहीं किया गया था.

बिल से मिली जानकारी से पता चलता है कि लगभग 2 करोड़ रुपये सीधे मुख्यमंत्री के इलाज पर खर्च नहीं किए गए थे. कमरे के किराए के करीब 1.24 करोड़ रुपये खर्च हुए क्योंकि पार्टी के नेताओं के लिए कमरे बुक किए गए थे. इसमें जयललिता और सरकारी कर्मचारियों में शामिल थे. खाद्य और पेय पदार्थों की लागत 1.17 करोड़ रुपये थी, जिसमें पुलिस कर्मियों, उपस्थित लोगों, सरकारी कर्मचारियों और मीडिया कर्मियों का भोजन शामिल था.

अपोलो अस्पताल के वकील माईमोना बदशा ने पीटीआई को बताया कि बिल 27 नवंबर को आयोग को सौंप दिया गया था. उन्होंने कहा "हम आश्चर्यचकित हैं यह कि एक गोपनीय दस्तावेज खुले में है." अस्पताल ने पहले आयोग को बताया था कि पुलिस के निर्देशों पर अस्पताल परिसर के अंदर सीसीटीवी कैमरे बंद कर दिए गए थे.

ये भी पढ़ें : विधानसभा चुनाव में हार के बाद PM मोदी को एक और झटका, यहां भी आगे निकले राहुल गांधी

First published: 19 December 2018, 11:32 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी