Home » इंडिया » Arjan Singh, Marshal Of Indian Air Force fairwell Gun Salute, State Funeral For Marshal
 

अंतिम सफर पर निकले वायुसेना मार्शल अर्जन सिंह, राष्ट्रपति, रक्षामंत्री ने दी श्रद्धांजलि

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 September 2017, 9:17 IST

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद व रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण व तीनों सैन्य बलों के प्रमुखों ने वायुसेना मार्शल अर्जन सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की.

वायुसेना मार्शल का शनिवार को निधन हो गया. कोविंद व सीतारमण, सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत, वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी.एस. धनोआ व नौसेना प्रमुख एडमिशरल सुनील लांबा के अलावा अन्य लोगों ने भी राष्ट्र के एकमात्र वायुसेना मार्शल को श्रद्धांजलि दी.

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सरदार सरोवर बांध के उद्घाटन की वजह से गुजरात में होने से प्रधानमंत्री की तरफ से सीतारमण ने श्रद्धांजलि अर्पित की. परिवार के सदस्य, संबंधी व दोस्त भी अर्जन सिंह के 7ए, कौटिल्य मार्ग के आवास पर अंतिम श्रद्धांजलि देने के लिए एकत्र हुए.

वायुसेना प्रमुख बी.एस.धनोअा ने कहा कि अर्जन सिंह मूल रूप से एक समाजसेवी थे और उन्होंने आगे बढ़कर हमेशा नेतृत्व किया और भारतीय वायुसेना में कई नवीन सुधार किए.

धनोअा ने कहा, 'जब 2004 में उन्हें वायुसेना के मार्शल के तौर पर पदोन्नत किया गया तब अपनी पत्नी के साथ उन्होंने अपनी संपत्ति बेच दी और 2 करोड़ रुपये की निधि से अर्जन सिंह ट्रस्ट शुरू किया, जो अब बढ़कर 3.7 करोड़ रुपये का हो गया है.' उन्होंने अर्जन सिंह के 1965 के युद्ध व वायुसेना में योगदान को याद किया.

उन्होंने कहा, 'स्वतंत्रता के बाद देश के लिए भारत-पाकिस्तान का 1965 का युद्ध पहला प्रमुख हवाई युद्ध था. यह उनका सक्रिय नेतृत्व ही था जिससे हमें अपनी शुरुआती नाकामयाबी के बाद दुश्मन पर काबू पाने में मदद मिली. वह जम्मू एवं कश्मीर को जोड़ना चाहते थे.'

नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने कहा, 'महान हवाई योद्धा, सच्चे नेता व आने वाली पीढ़ियों के एक ऑइकान वायुसेना मार्शल अर्जन सिंह को पूरा देश याद करेगा.' वायुसेना मार्शल अर्जन सिंह का दिल के दौरे के बाद शनिवार की रात निधन हो गया. 

First published: 18 September 2017, 9:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी