Home » इंडिया » Army Major killed in encounter with terrorists in Manipur
 

मणिपुर: आतंकियों से मुठभेड़ में मेजर शहीद

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 April 2016, 13:44 IST

पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर की राजधानी इंफाल में अलग-अलग आतंकी हमलों में सेना के मेजर समेत दो जवान शहीद हो गए.तामेंगलॉन्ग जिले में जेडयूएफ के आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में मेजर अमित देशवाल जख्मी हो गए थे.

उनके पेट में दो गोलियां लगी थीं. अस्पताल में इलाज के बाद डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. शहीद मेजर देशवाल हरियाणा के झज्जर जिले के रहने वाले थे. उनकी तैनाती राष्ट्रीय राइफल्स की स्पेशल फोर्स में थी.

पढ़ें:इंफाल मुठभेड़: हीरोजीत सिंह के बयान से उभरे पूर्वोत्तर के पुराने जख्म

'कमांडो डैगर' के नाम से मशहूर थे देशवाल

मेजर देशवाल एक ट्रेंड कमांडो थे. सेना के अफसरों के मुताबिक सर्च ऑपरेशन के दौरान हुई मुठभेड़ में एक आतंकी भी मारा गया. 'कमांडो-डैगर' के नाम से मशहूर मेजर अमित देशवाल 10 जून 2006 को सेना में भर्ती हुए थे.

उन्हें रोमांचक अभियानों की सफलता के बाद स्पेशल फोर्स के लिए चुना गया था. 2011 में मेजर देशवाल ने इलाइट सर्विस ज्वाइन किया था. उन्हें कमांडो डैगर बेस्ट स्टूडेंट का सम्मान भी मिला था.

यूएन पीसकीपिंग फोर्स में भी मेजर अमित देशवाल ने  साहस दिखाया था. मेजर अमित देशवाल को 2016 में ऑपरेशन हिफाजत में अहम जिम्मेदारी सौंपी गई थी. कुछ महीने पहले ही वो यूएन शांति सेना में सेवा देकर भारत लौटे थे.

पढ़ें:छत्तीसगढ़: मुठभेड़ में पांच महिलाओं सहित आठ माओवादी ढेर

असम राइफल्स का जवान शहीद

इंफाल में एक और आतंकी हमले में असम राइफल्स का एक जवान शहीद हो गया. बताया जा रहा है कि खुमान लंपक इलाके में सेना के ट्रांजिट कैंप पर एक आईईडी ब्लास्ट किया गया.

जिसकी चपेट में आकर असम राइफल्स का जवान शहीद हो गया. हमले में तीन जवान घायल भी हुए हैं. जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है. किसी भी आतंकवादी संगठन ने अभी हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं.

पढ़ें:मैं गायब नहीं हुआ हूं, मुझे डर है इसलिए छिपा हुआ हूंः हीरोजीत सिंह

First published: 14 April 2016, 13:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी