Home » इंडिया » Article 370 part 1 is not abolished from Jammu and Kashmir
 

जम्मू-कश्मीर से अभी पूरी तरह खत्म नहीं हुआ अनुच्छेद 370, अभी भी कायम है खंड 1

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 August 2019, 14:23 IST

मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष अधिकार देने वाला अनुच्छेद 370 समाप्त कर दिया है. हालांकि अभी तक अनुच्छेद 370 पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है. अनुच्छेद 370 तीन भागों में बंटा हुआ है. गृहमंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में बयान दिया है कि अनुच्छेद 370(1) बाकायदा कायम है.

गृहमंत्री के बयान के मुताबिक सिर्फ अनुच्छेद 370 (2) और (3) को हटाया गया है. यानि कि 370(1) में प्रावधान के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर सरकार से सलाह करके राष्ट्रपति आदेश द्वारा संविधान के विभिन्न अनुच्छेदों को जम्मू और कश्मीर पर लागू कर सकते हैं.

वहीं 370(3) में प्रावधान था कि अनुच्छेद 370 को बदलने के लिए जम्मू और कश्मीर संविधान सभा की सहमति चाहिए. गृहमंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में जो संकल्प पेश किया, उसके मुताबिक जम्मू-कश्मीर राज्य से संविधान का अनुच्छेद 370 हटाने और राज्य का विभाजन जम्मू कश्मीर एवं लद्दाख के दो केंद्र शासित क्षेत्रों के रूप में करने का प्रस्ताव किया गया है.  जम्मू कश्मीर केंद्र शासित क्षेत्र में अपनी विधायिका होगी जबकि लद्दाख बिना विधायी वाली केंद्रशासित क्षेत्र होगा.

बता दें कि अनुच्छेद 370 के दो खंडों के हटने से जम्मू-कश्मीर अब विशेष राज्य नहीं रहा है. अब कश्मीर में अलग संविधान और अलग झंडा नहीं रहेगा. जम्मू-कश्मीर में अब भारत का संविधान लागू होगा और तिरंगा वहां का राष्ट्रीय ध्वज होगा. इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर को दो भागों में बांट दिया गया है.

पहला भाग जम्मू-कश्मीर का होगा वहीं दूसरा भाग लद्दाख का होगा. खास बात यह है कि ये दोनों भाग अब केंद्र शासित राज्य होंगे. जम्मू-कश्मीर विधानसभा सहित केंद्र शासित राज्य होगा, जबकि लद्दाख बिना विधानसभा के केंद्र शासित राज्य होगा.

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के इस ऐलान के बाद राज्यसभा में जमकर हंगामा हुआ. कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने राज्यसभा में जमीन पर बैठकर फैसले का विरोध किया. वहीं पीडीपी कें सांसदों ने फैसले के विरोध मेंं अपने कपड़े फाड़े. एक पीडीपी सांसद ने तो संविधान की कॉपी फाड़ दी.

जम्मू-कश्मीर से धारा 370 खत्म, PDP सांसद ने राज्यसभा में फाड़ा संविधान

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म, अब नहीं होगा अलग झंडा और अलग संविधान

First published: 5 August 2019, 14:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी