Home » इंडिया » artist Sudarsan Pattnaik Sand Ganesh with a message “Say no to single-use plastic
 

मोदी से प्रेरित होकर गणेश चतुर्थी पर इस कलाकार ने प्लास्टिक के खिलाफ ऐसे छेड़ा अभियान

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 September 2019, 15:57 IST

पर्यावरण को बचाने के लिए प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने का सन्देश देते हुए प्रसिद्द सेंड आर्टिस्ट सुदर्शन पट्टनायक ने पुरी समुद्र तट पर 1000 प्लास्टिक की बोतलों के साथ भगवान गणेश की एक रेत की मूर्ति बनाई है. इस गणेश चतुर्थी के अवसर पर बनाई गई इस मूर्तिकला पर प्लास्टिक का उपयोग न करने और पर्यावरण को बचाने का सन्देश दिया गया है. हिंदू की रिपोर्ट के अनुसार पट्टनायक ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मन की बात में एकल-उपयोग वाले प्लास्टिक को हटाने के अभियान से प्रेरित होकर यह फैसला किया है.

ओडिशा के कलाकार ने कहा कि पीएम मोदी ने अपने मन की बात के रेडियो प्रसारण में एकल-उपयोग वाले प्लास्टिक के खिलाफ स्वतंत्रता दिवस पर यह सन्देश दिया था. उन्होने कहा कि उनकी रचना का उद्देश्य लोगों को पर्यावरण पर प्लास्टिक के दुष्प्रभावों के बारे में जागरूक करना है, पटनायक ने कहा कि यदि प्लास्टिक को पुनर्नवीनीकरण नहीं किया जाता है, इसके बड़े दुष्परिणाम हो सकते हैं.

उन्होंने कहा "गणेश चतुर्थी के अवसर पर मैं लोगों से अपील करना चाहता हूं कि वे अपने पर्यावरण को बचाने के लिए एकल-उपयोग प्लास्टिक का उपयोग न करें." उन्होंने कहा कि भगवान गणेश की 10 फीट ऊंची रेत की मूर्ति 5 टन रेत का उपयोग करके बनाई गई थी, जबकि इसके चारों ओर लगभग 1000 प्लास्टिक की बोतलें लगाई गई थीं.

पटनायक ने आगे याद किया कि उन्होंने बोस्टन में आयोजित बोस्टन इंटरनेशनल सैंड आर्ट चैंपियनशिप 2019 में पीपुल्स च्वाइस अवार्ड जीता, जहां उन्होंने प्लास्टिक प्रदूषण के वैश्विक मुद्दे के आधार पर अपनी रेत की मूर्ति का प्रदर्शन किया. पद्म पुरस्कार विजेता ने दुनियाभर में 60 से अधिक अंतरराष्ट्रीय रेत मूर्तिकला प्रतियोगिताओं और समारोहों में भारत का प्रतिनिधित्व किया है और देश के लिए कई पुरस्कार जीते हैं. उन्होंने कहा कि उनकी अधिकांश बाल रचनाएं समाज में जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से महत्वपूर्ण सामाजिक मुद्दों पर आधारित हैं.

गणेश चतुर्थी पर भूल से भी कर दिया ये 5 काम तो हो सकता है बड़ा अनर्थ !

First published: 2 September 2019, 15:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी