Home » इंडिया » Arun Jaitley: Changes in film certificate norms soon
 

'उड़ता पंजाब' पर बोले जेटली- फिल्म प्रमाणन नियमों में जल्द बदलाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 June 2016, 11:58 IST
(एजेंसी)

‘उड़ता पंजाब’ फिल्म पर उठे विवाद के बीच केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि फिल्म प्रमाणन नियम उदार होंगे तथा अगले कुछ दिनों में ‘कुछ बड़े बदलावों’ का एलान किया जाएगा.

उड़ता पंजाब फिल्म में सेंसर बोर्ड द्वारा कुछ काट-छांट करने करने पर उठे विवाद पर अपनी पहली टिप्पणी में उन्होंने कहा, "मैं इसे अति नहीं कहूंगा. वैसे मैं इस मामले को नहीं जानता क्योंकि मैंने संबंधित फिल्म नहीं देखी है."

साथ ही जेटली ने कहा कि वह वर्तमान फिल्म प्रमाणन प्रणाली से संतुष्ट नहीं है, उसमें कुछ बदलाव किये जाने हैं.

बेनेगल से मिली रिपोर्ट

सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने कहा कि श्याम बेनेगल की अच्छी तरह की दस्तावेजी रिपोर्ट है. उसका पहला हिस्सा, जो मेरे पास आया है, विचाराधीन है. जेटली ने कहा कि समिति ने कुछ बदलाव सुझाए हैं.

पढ़ें: 'उड़ता पंजाब' का आप कनेक्शन

जेटली ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा, "निश्चित ही आपकी एक प्रणाली होगी, जिसमें आपको प्रमाणपत्र लेना होगा. सही शब्द प्रमाणन है न कि सेंसरशिप. प्रमाणन नियम उदार होने चाहिये."

सीबीएफसी ने दलील दी है कि मादक पदार्थ पर आधारित क्राइम थ्रिलर उड़ता पंजाब में कई काट-छांट की जरूरत है, क्योंकि यह राज्य की गलत छवि पेश करती है और यह धारणा पैदा करती है कि राज्य में ज्यादातर लोग नशा करते हैं. इसके बाद फिल्मकार और सेंसर बोर्ड में टकराव पैदा हो गया है. 

ट्रिब्यूनल में कर सकते थे अपील

अरुण जेटली ने कहा, "मैं समझता हूं कि हम कुछ ज्यादा कह रहे हैं, क्योंकि आखिरकार आपके पास एक बोर्ड है, जो एक दृष्टिकोण अपनाता है, हो सकता है वह थोड़ा रूढ़िवादी दृष्टिकोण है, लेकिन तब अपील न्यायाधिकरण में अपील कर इससे निबटा जा सकता है. मेरा अनुभव है कि तब सब कुछ साफ हो जाता है."

पढ़ें: 'उड़ता पंजाब से उड़ता मजाक तक...'

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उड़ता पंजाब फिल्म में सेंसर बोर्ड ने 89 जगह कट और पंजाब नाम हटाकर फिल्म की रिलीज की बात कही है. इस मामले में फिल्म के निर्मताओं ने बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है.

First published: 10 June 2016, 11:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी