Home » इंडिया » Arunachal: Dissident Congress MLA Kalikho stakes claim to form govt
 

अरुणाचल में हो सकता है सरकार का गठन

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 February 2016, 19:28 IST

केंद्र सरकार ने आज राष्ट्रपति से अरुणाचल प्रदेश में राष्ट्रपति शासन हटाने की अनुशंसा की है.

उम्मीद की जा रही है कि कैबिनेट के इस फैसले के बाद अगर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी अरुणाचल प्रदेश से राष्ट्रपति शासन हटाने का निर्णय करते हैं, तो प्रदेश में नयी सरकार का गठन हो सकता है.

उल्लेखनीय है कि अरुणाचल प्रदेश में कांग्रेस के बागी विधायकों के नेता कलिखो पुल के नेतृत्व में प्रदेश में नयी सरकार के गठन की संभावना है.

इससे पूर्व बागी गुट के नेता पुल राज्यपाल जेपी राजखोवा के समक्ष इस संबंध में दावा भी पेश कर चुके हैं.

गौरतलब है कि इस मामले में कल गुलाम नबी आजाद के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं का प्रतिनीधि मंडल राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिल कर उन्हें ज्ञापन सौंपा.

कांग्रेस ने राष्ट्रपति से आग्रह किया कि अगर केंद्रीय कैबिनेट प्रदेश में राष्ट्रपति शासन हटाने की सिफारिश करती है, तो वो इस बारे में कार्रवाई न करें.

कांग्रेस पार्टी ने राष्ट्रपति से इस बात कि भी आशंका जताई है कि केंद्र की मोदी सरकार राज्य में राष्ट्रपति शासन हटाने की सिफारिश कर सकती है, क्योंकि प्रदेश के राज्यपाल जेपी राजखोवा कांग्रेस के बागी विधायक कालिखो पुल को अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ दिलाना चाहते हैं.

First published: 17 February 2016, 19:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी