Home » इंडिया » Arvind Kejriwal Announced 1 crore Compensation For Head Constable Ratan Lal
 

केजरीवाल सरकार का बड़ा ऐलान, शहीद रतन लाल के परिवार को 1 करोड़ रुपये और नौकरी देने का वादा

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 February 2020, 19:19 IST

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर हुई हिंसा में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के हेड कांस्‍टेबल रतन लाल (Ratan LaL) सहित 22 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. बुधवार को उत्तर पूर्वी दिल्ली (North-East Delhi) के जाफराबाद, सीलमपुर, मौजपुर, चांग बाग इलाकों में हिंसा की घटना नहीं हुई हालांकि तनाव अभी भी है. वहीं इन सब के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा में ऐलान किया है कि शहीद हुए पुलिस हेड कॉन्स्टेबल के परिवार को एक करोड़ रूपये की मदद के अलावा उनके परिवार में एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी.

बुधवार को दिल्ली विधानसभा के तीन दिवसीय सत्र की कार्रवाई के दौरान राज्य के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने सदन में हेड कांस्‍टेबल रतन लाल के परिजनों को मदद देनी की घोषणा की है. सीएम अरविंद केजरीवाल ने विधानसभा में कहा, 'उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में शहीद हुए पुलिस हेड कॉन्स्टेबल के परिवार को मैं आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम उनकी देकभाल करेंगे.हम उनके परिवार को 1 करोड़ रुपए मुआवजा देंगे और उनके परिवार के सदस्य को नौकरी भी दी जाएगी.'

वहीं दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा, 'दिल्ली के लोग हिंसा नहीं चाहते हैं, यह सब आम आदमी ने नहीं किया है. यह असामाजिक तत्वों, राजनीतिक और अतिवादी ताकतों ने किया है. दिल्ली में हिंदू और मुसलमान लड़ना नहीं चाहते हैं.' 

गौरतलब हो, नागरिकता संशोधन कानून को लेकर उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद में विरोध प्रदर्शन के दौरान शहीद रतन लाल ने पुलिस आयुक्त को बचाने के लिए अपनी जान की बाजी लगा दी थी. इस दौरान अपद्रवियों द्वारा चलाई गई गोली उन्हें लगी जिसके बाद अस्पताल में उनकी मौत हो गई थी. शुरूआत में रतन लाल की मृत्यु पर कहा गया कि वो पत्थरबाजी में शहीद हुए थे लेकिन बुधवार को आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उनकी मौत का कारण बुलेट इंजरी को बताया गया.
Delhi Violence: जानिए कौन हैं एस एन श्रीवास्तव जिन्हें बनाया गया दिल्ली पुलिस का स्पेशल कमिश्नर

First published: 26 February 2020, 19:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी