Home » इंडिया » Asaduddin Owaisi targeted to BJP and congress asked is muslim world is that dirty
 

ओवैसी का BJP-कांग्रेस पर हमला, पूछा- 'मुसलमान' शब्द इतना गन्दा?

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 July 2018, 14:29 IST

कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के मुसलमान-मुसलमान खेलने पर एआईएमआईएम सांसद ओवैसी ने विरोध जताया है. ओवैसी ने ट्वीट करके दोनों पार्टियों पर निशाना साधा है. ओवैसी ने कहा है कि मुसलमान न तो इस पार्टी के हैं न उस पार्टी के है. ऐसे बयान देकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रधानमंत्री मोदी मुसलमानों को क्या माहौल देना चाहते हैं? यही कि मुस्लमान शब्द का इस्तेमाल ध्रुवीकरण की तरफ ले जायेगा? क्या मुसलमान शब्द इतना गन्दा है?

गौरतलब है कि हाल ही में कांग्रेस पार्टी के साथ एक नया विवाद जुड़ा था जिसमें मुसलमानों से दूरी बनाने का आरोप लगा था. हालांकि इस आरोप के जवाब में राहुल गांधी ने कहा था कि कांग्रेस पार्टी किसी जाति धर्म की नहीं बल्कि सबको एक साथ लेकर चलने पर विश्वास करती है.

 

इतना ही नहीं माइनॉरिटीज को लुभाने वाले चुनावी वादों पर निशाना साधते हुए ओवैसी ने मोदी सरकार से सवाल किया, ''पिछले चार सालों में आपने कितने मुस्लिमों की बहाली सुरक्षा बलों में की है. जबकि पीएम मोदी के 15 पॉइंट प्रोग्राम में पॉइंट नंबर 10 में कहा गया है की राज्य और केंद्र की सरकारी नौकरियों और पुलिस भर्तियों में सरकार को कहा जाएगा कि माइनॉरिटीज को प्राथमिकता दे.''  साथ ही ओवैसी ने मोदी सरकार को एक हफ्ते का समय देते हुए कहा कि वो बताएं कि कितने मुसलमानों की बहाली हुई है?

 

आगे उन्होंने कहा, 'रिकॉर्ड के तौर पर यह साफ है कि सीआईएसएफ में केवल 3.7 प्रतिशत मुसलमान हैं. सीआरपीएफ में केवल 5.5 प्रतिशत मुस्लमान ही हैं. रैफ में 6.9 प्रतिशत मुस्लमान हैं. क्या यह एक बहुसांस्कृतिक वातावरण है?'

कुछ दिनों पहले भी ओवैसी ने मुसलमान शब्द इस्तेमाल करके वोट के लिए राजनीति करने को लेकर पार्टियों पर हमला किया था. उन्होंने कहा था कि मुसलामानों को खुद अपने लिए खड़ा होना होगा.

ये भी पढ़ें- सर्जिकल स्ट्राइक मामले में मनोहर पर्रिकर का कांग्रेस पर तंज- सेना को राहुल गांधी को साथ ले जाना चाहिए था

First published: 17 July 2018, 14:29 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी