Home » इंडिया » Asaduddin Owaisi tweets has Modi Government surrendered India’s right to 1000 sq km of land
 

भारत-चीन विदेश मंत्रियों की बैठक पर ओवैसी का बयान- क्या मोदी सरकार ने चीन को दे दी भारत की जमीन?

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 September 2020, 14:27 IST

India China FaceOff: भारत-चीन के बीच लद्दाख में तनाव को लेकर भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर और चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने रूस के मॉस्को में दो घंटे से अधिक समय तक सीधी बातचीत की. इसे लेकर AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने मोदी  सरकार पर हमला किया है. ओवैसी ने एक ट्वीट कर सवाल पूछा कि क्या मोदी सरकार ने भारत की जमीन सरेंडर कर दी है?

ओवैसी ने कहा कि क्या केंद्र की मोदी सरकार ने भारत की 1000 वर्ग किलोमीटर जमीन का समर्पण कर दिया है? विदेश मंत्री ने चीन से अप्रैल से पहले वाली स्थिति में आने के लिए चीनी विदेश मंत्री से क्यों नहीं कहा? ओवैसी ने अपने ट्वीट में लिखा, "चीन चाहता है कि बॉर्डर पर तनाव के बीच निवेश, कूटनीति और बाकी सभी चीजें बनी रहे. इस पर भारत को सहमत नहीं होना चाहिए."

ओवैसी ने लिखा, "हमने दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के संयुक्त बयान को देखा. भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने चीन से लद्दाख में LAC पर अप्रैल से पहले वाली स्थिति में आने के बारे में क्यों नहीं कहा.  क्या विदेश मंत्री भी अपने बॉस PMO इंडिया से सहमत हैं कि कोई चीनी सैनिक भारतीय क्षेत्र में आया ही नहीं." 

भारत चीन विवाद के बीच राहुल गांधी का ट्वीट- चीन ने हमारी जमीन हड़प ली

इससे पहले कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर कहा था कि चीन ने हमारी जमीन हड़प ली है. राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा था, "चीन ने हमारी जमीन हड़प ली है. भारत सरकार इसे वापस हासिल करने के लिए क्या योजना बना रही है? या फिर इसे भी एक दैवीय घटना बताकर छोड़ा जा रहा है."

बता दें कि भारत और चीन के बीच लद्दाख में तनाव को देखते हुए भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर और चीनी विदेश मंत्री वांग यी के बीच गुरुवार की रात मॉस्को में दो घंटे से अधिक समय तक आमने सामने बैठकर बात हुई. इस बीच दोनों नेताओं ने तनाव को हल करने के लिए पांच-सूत्रीय योजना पर सहमति व्यक्त की.

LAC विवाद : 2 घंटे से ज्यादा चली रक्षा मंत्रियों की बैठक में बनी सहमति लेकिन सीमा पर तनाव जारी

कांग्रेस का आरोप- सुशांत की मौत को बिहार चुनाव में ट्रंप कार्ड की तरह इस्तेमाल कर रही BJP

First published: 11 September 2020, 14:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी