Home » इंडिया » Asom Gana Parishad may be allies with BJP : Mahanta
 

असम गण परिषद कर सकती है भाजपा के साथ गठबंधन: महंत

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 February 2016, 17:45 IST
QUICK PILL

असम में आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए राजनीतिक गुणा-गणित तेज होती जा रही है.

ताजा मामले में असम गण परिषद के नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री प्रफुल्ल कुमार महंत ने कहा है कि 'असम गण परिषद आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ किसी भी तरह का गठबंधन नहीं करने जा रही है लेकिन यदि पार्टी को भाजपा की तरफ से कोई ठोस प्रस्ताव मिलता है तो हमारी पार्टी उस पर गंभीरता से विचार करेगी'.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक महंत ने कहा कि 'हमारी पार्टी का सैद्धांतिक रूप से कांग्रेस के साथ कोई गठबंधन नहीं हो सकता. असम गण परिषद का गठन ही कांग्रेस की विरोधी विचारधारा के फलस्वरूप हुआ था. इसलिए हम कांग्रेस के साथ कोई भी गठबंधन नहीं करेंगे.

'राज्य के सबसे युवा मुख्यमंत्री रहे महंत ने कहा कि 'गठबंधन के लिए असम गण परिषद ने कुछ स्थानीय दलों से बातचीत की है लेकिन इस बारे में अब तक भाजपा के साथ कोई भी चर्चा नहीं हुई है. अगर भाजपा की तरफ से कोई ठोस प्रस्ताव आता है तो हमारी पार्टी खुले दिल से इस पर चर्चा करेगी'.

प्रफुल्ल कुमार महंत ने कहा कि विधान सभा चुनाव में किसी अन्य राजनीतिक दल के साथ गठबंधन पर निर्णय लेने के लिए असम गण परिषद ने एक समिति का गठन किया है. जो इस तरह के सभी मामलों पर फैसला करेगी.

छात्र राजनीति से राज्य की राजनीति में अपना परचम लहराने वाले महंत साल 1985 से साल 1990 तक और साल 1996 से साल 2001 के बीच दो बार असम के मुख्यमंत्री रह चुके हैं.

गौरतलब है कि असम गण परिषद के नेता महंत ने शुक्रवार को नयी दिल्ली में भाजपा के वरिष्ठ नेता और पार्टी के मार्गदर्शक मंडल के प्रमुख लालकृष्ण आडवाणी से मुलाकात की थी.

इसके बाद से ही इस बारे में कयास लगाये जा रहे थे कि भाजपा और असम गण परिषद के बीच असम चुनाव को लेकर गठबंधन हो सकता है.  

First published: 7 February 2016, 17:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी