Home » इंडिया » Assam: Mob lynches two suspected cow thieves in Nagaon
 

असम: गाय चोरी के शक में दो मुस्लिम युवकों की पीट-पीटकर हत्या

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 May 2017, 12:47 IST
(एएनआई)

असम में कथित गोरक्षा के नाम पर दो मुस्लिम युवकों की पीट-पीटकर हत्या का मामला सामने आया है. नागांव जिले में उन्मादी भीड़ ने गाय चोरी के आरोप में दो युवकों की बर्बर पिटाई की. असम में पहली बार भाजपा की सरकार बनी है और बताया जा रहा है गोरक्षा के नाम पर राज्य में हत्या का ये पहला मामला है.

मारे गए दोनों युवकों की अबू हनीफ़ा और रियाजुद्दीन अली की उम्र 20 से 25 साल के बीच थी. दोनों पर मवेशी चोर होने का शक था. नागांव के एसपी देवराज उपाध्याय का कहना है, "जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो उसने देखा कि नागांव थाने के कासामारी चारागाह इलाके के पास गांव वालों की भीड़ दो लोगों की पिटाई कर रही थी. मौके पर पहुंची पुलिस टीम घायल दोनों लोगों को अस्पताल ले गई जहां उन्होंने दम तोड़ दिया."

डेढ़ किलोमीटर तक पीछा करके पीटा

पुलिस के मुताबिक नागांव थाना इलाके के करारमरी से जाजोरी थाना इलाके के बीच तकरीबन डेढ़ किलोमीटर तक लोगों ने उनका पीछा किया और लाठियों से बर्बर पिटाई की.

नागांव के एसपी का कहना है कि दोनों मृतकों की शिनाख्त हो गई है और उनके माता-पिता ने शिकायत दर्ज कराई है.
पुलिस से जब गोरक्षकों को लेकर सवाल पूछा गया तो उनका कहना था कि नागांव में मवेशी चोरी की काफी घटनाएं हुई हैं.

एसपी ने बताया, " कुछ लोगों ने देखा कि 2 लोग खेत से गायों को लेकर जा रहे हैं और उन्होंने गांव से और लोगों को बुलाया. भीड़ की तादाद जब बढ़ गई तो उन दोनों की बुरी तरह पिटाई शुरू कर दी."

असम में मवेशी चोरों की भीड़ द्वारा पिटाई के मामले सामने आते रहे हैं. लेकिन किसी की हत्या की घटना नहीं सामने आई थी. पिछले साल हुए चुनाव में सर्बानंद सोनोवाल की अगुवाई में भाजपा ने पहली बार सूबे की सत्ता हासिल की है.  

First published: 1 May 2017, 12:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी