Home » इंडिया » Assam: NRC draft released 40 lakh invalid Mamata Banerjee attacks on BJP govt
 

असम: NRC पर ममता बनर्जी बोलीं- 'सरनेम' देखकर भगा रही है सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 July 2018, 15:05 IST

असम में आज नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स का अंतिम ड्राफ्ट जारी किया गया. इस ड्राफ्ट के अनुसार राज्य में 2 करोड़ 89 लाख 83 हजार 677 लोगों को वैध नागरिक माना गया. लेकिन चौंकाने वाली बात यह है कि लगभग 40 लाख लोगों को अवैध नागरिक माना गया है. इसके बाद विपक्षी पार्टियां बीजेपी सरकार पर हमलावर हो गई हैं. 

एनआरसी के ड्राफ्ट पर पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि बहुत से ऐसे लोग हैं, जिनके पास आधार कार्ड और पासपोर्ट है. लेकिन इसके बावजूद उनका नाम ड्राफ्ट में शामिल नहीं किया गया है. ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि 'सरनेम' देखकर लोगों के नाम ड्राफ्ट लिस्‍ट में से हटाए गए हैं.

 

ममता ने पूछा कि क्या सरकार जबरन कुछ लोगों को देश से बाहर निकालने की कोशिश कर रही है? या लोगों को योजनाबद्ध तरीके से बाहर करने की साजिश की जा रही है? ममता बनर्जी ने कहा कि लोगों को उनके देश में ही शरणार्थी बना दिया गया है.

 

इससे पहले बीजेपी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने इस पर कहा था कि जो भारतीय नागरिक नहीं हैं उन्हें बाहर भेज दिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि भारत कोई धर्मशाला नहीं है. वहीं केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि किसी भी भारतीय नागरिक पर इसका असर नहीं पड़ना चाहिए. हम असम सरकार की पहल को धन्यवाद देते हैं जिसने देश में पहली बार इस तरह का कदम उठाया.

हालांकि गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि एनआरसी की आज जारी की गई लिस्ट सिर्फ मसौदा है अंतिम लिस्ट नहीं है. हर किसी को इसके खिलाफ कानून के तहत शिकायत या आपत्ति करने का अधिकार है. हर किसी की शंका का समाधान किया जाएगा.

First published: 30 July 2018, 15:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी