Home » इंडिया » Assam: Singer of BJP’s 2016 campaign song offers to return fee to protest Citizenship Bill
 

असम की BJP सरकार से इस गायक की मांग- मेरे गानों से मिले वोट वापस करो

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 January 2019, 13:04 IST

असम में भारतीय जनता पार्टी के चुनाव प्रचार का गीत गाने वाले गायक जुबीन गर्ग ने भगवा पार्टी से एक अजीब सी मांग कर डाली है. गर्ग ने बीजेपी सरकार के विवादास्पद नागरिकता (संशोधन) विधेयक का विरोध करते हुए लिए पार्टी से उनके गाने के लिए मिले शुल्क को वापस करने की पेशकश की है. 

ज़ुबिन गर्ग ने असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को एक पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने लिखा कि भाजपा ने उनके गाये गीतों से जो वोट पाए उनको वह वापस कर दें. पत्र में जुबीन ने लिखा है “कुछ दिन पहले आपको एक पत्र लिखा था. लगता है कि आप जवाब देने के लिए काले झंडे गिनने में बहुत व्यस्त हैं,”

गर्ग ने रविवार को फेसबुक पर लिखा "तो 2016 में आपको मेरी आवाज़ का उपयोग करके जो वोट मिले हैं, वह मुझे वापस मिल सकते हैं?" मैं पारिश्रमिक वापस करने के लिए तैयार हूं.” गर्ग ने 2016 में राज्य में विधानसभा चुनावों के लिए एक्सोमोर आनंद सर्बानंद (असम का खुशी सर्बानंद) गाया था.

भाजपा ने चुनाव जीता था और असम गण परिषद और बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट के साथ गठबंधन सरकार बनाई थी. इस महीने की शुरुआत में असम गण परिषद ने नागरिकता विधेयक का विरोध करने के लिए गठबंधन से हाथ खींच लिया था. यही नहीं तीन असम गण परिषद के राज्य मंत्रियों ने पिछले सप्ताह पद छोड़ दिया.

विवादास्पद मसौदा कानून के खिलाफ हिंसा के कारण उत्तर पूर्व उथल-पुथल की स्थिति में है. विधेयक में बांग्लादेश, अफगानिस्तान और पाकिस्तान से हिंदुओं, बौद्धों, सिखों, जैनियों, पारसियों और ईसाइयों को नागरिकता प्रदान करने के लिए 1955 में नागरिकता अधिनियम में संशोधन करने का प्रयास किया गया है.

ये भी पढ़ें : कुंभ मेला: अब गंगा नहीं रही मैली, स्वच्छ गंगाजल में श्रद्धालु लगा रहे हैं डुबकी, योगी सरकार की इस टेक्नोलॉजी का है कमाल

First published: 14 January 2019, 13:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी