Home » इंडिया » assembly elections 2016: Rahul Gandhi address rally in assam
 

'मोदी जी आते हैं, वादे करते हैं और चले जाते हैं'

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:51 IST

असम के दिफू में चुनावी रैली में मंगलवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी आते हैं, वादे करते हैं और चले जाते हैं.

उन्होंने कहा कि बिहार की जनता ने मोदीजी को डायरेक्ट फ्लाइट से वापस भेज दिया, अब असम की जनता को भी यही करना है.

बांग्ला मुसलमान और अवैध घुसपैठ के मुद्दे पर होगा असम चुनाव

असम में चौथी बार कांग्रेस की सरकार बनाने की अपील करते हुए राहुल ने कहा कि हरियाणा में बीजेपी की सरकार आती है और कुछ महीनों के अंदर ही वहां दंगा शुरू हो जाता है. एक जाट, गैर जाट से लड़ता है. हरियाणा में दस साल कांग्रेस की सरकार थी और वहां शांति भी थी.

राहुल ने कहा कि मोदी सरकार ने लोकसभा चुनाव से पहले देश की जनता से वादे किए थे उन पर वे खरे नहीं उतर पाए हैं. बीजेपी और आरएसएस देश में एक विचारधारा थोपना चाहती है लेकिन भारत किसी एक विचारधारा से ताल्लुक नहीं रखता है यह विविधताओं और विभिन्न भाषाओं का देश है.

असम चुनाव जीतने से मुझे नुकसान हैं: पीएम मोदी

राहुल ने विजय माल्या के देश से भागने के पीछे भी केंद्र सरकार को जिम्मेदार बताया. उन्होंने कहा कि विजय माल्या की संसद में एक मंत्री से मुलाकात हुई और फिर आराम से भाग गए.

असम में पिछले 15 सालों से कांग्रेस सत्ता में है और तरुण गोगोई राज्य के मुख्यमंत्री है. बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री सर्वानंद सोनेवाल को राज्य में मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया है.

असम बीजेपी का चुनावी पैंतरा: हिंदू विस्थापित बनाम मुस्लिम विस्थापित

बीजेपी राज्य के 126 विधानसभा क्षेत्रों में से 91 में चुनाव लड़ रही है, जबकि 24 सीटें इसने अपने साझीदार असम गण परिषद के लिए और शेष अन्य छोटी पार्टियों के लिए छोड़ी हैं.

2011 में 126 सीटों के लिए हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 6 जबकि असम गण परिषद को नौ सीटें मिली थीं. कांग्रेस ने 68 सीटों पर जीत दर्ज की थी.

First published: 29 March 2016, 4:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी