Home » इंडिया » Atal Bihari Vajpayee funeral : Last rites ceremony of former Prime Minister Atal Bihari Vajpayee at Smriti Sthal
 

पंचतत्व में विलीन हुए अटल, शेष रह गई बस स्मृतियां

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 August 2018, 17:56 IST

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम संस्कार यमुना किनारे स्मृति स्थल पर किया गया. वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को बेटी नमिता ने मुखाग्नि दी. राजकीय सम्मान के बाद वैदिक मंत्रों के उच्चारण के साथ पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम संस्कार स्मृति स्थल पर शुरू हुआ.

इससे पहले अटल बिहारी वाजपेयी के शरीर से लिपटे तिरंगे को उनकी नातिन निहारिका को सौंपा गया. अटल के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई भी पहुंचे. इसके अलावा श्रीलंका के विदेश मंत्री ने भी अटल को अंतिम नमन किया.

पाकिस्तान के कानून मंत्री अली जफर भी अटल के अंतिम संस्कार के लिए पहुंचे. उन्होंने कहा ''हम यहां आपके दुःख को साझा करने और पाकिस्तान और पाकिस्तान सरकार के लोगों की ओर से अपना शोक व्यक्त करने आये हैं''. इसके अलावा भूटान के राजा जिग्मे खेसर नंघेल ने भी अटल को श्रद्धांजलि अर्पित की.

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधान मंत्री के अंतिम संस्कार के लिए दिल्ली में स्मृति स्थल में अटल के अंतिम संस्कार में मौजूद रहे.

उनकी अंतिम यात्रा में महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फणनवीस, उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत सहित कई राज्यों के मुख्यमंत्री भी मौजूद हैं. ये सारे लोग अटल बिहारी के पार्थिव शरीर के साथ ही चल रहे थे.

स्मृति स्थल पर पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देते सेना प्रमुख विपिन रावत, नौसना प्रमुख ऐडमिरल सुनील लांबा, एयर चीफ मार्शल बीरेंद्र सिंह धनोआ भी मौजूद रहे. इस बीच संयुक्त राष्ट्र ने अपने स्वीटर हैंडल से अटल की यादों को ताजा किया.

First published: 17 August 2018, 17:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी