Home » इंडिया » Atal Bihari Vajpayee given Resignation as PM in 1996 before floor test
 

अटल बिहारी वाजपेयी ने 1996 में बिना फ्लोर टेस्ट का सामना किए दिया था इस्तीफा

आदित्य साहू | Updated on: 19 May 2018, 14:35 IST

कर्नाटक में अब बीजेपी के लिए बहुमत हासिल करना टेढ़ी खीर बनता जा रहा है. खबर आ रही है कि येदियुरप्पा सरकार फ्लोर टेस्ट का सामना नहीं करेगी और इस्तीफा दे देगी. कहा जा रहा है कि ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि विधायकों का जुगाड़ नहीं हो पाया है. 

सवाल उठ रहे हैं कि जब पहले से ही बीजेपी के पास पर्याप्त बल संख्या नहीं थी तो उन्होंने सरकार बनाने का दावा क्यों पेश किया? इसके अलावा कर्नाटक के राज्यपाल की भूमिका पर भी सवाल उठ रहे हैं कि उन्होंने येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री पद की शपथ क्यों दिलाई. 

कहा जा रहा है कि विधायकों का जुगाड़ न होने की वजह से येदियुरप्पा अब इमोशनल कार्ड खेलने जा रहे हैं. इस्तीफा देकर वह लिंगायतों और कर्नाटक की जनता के सामने बेचारा बनने की कोशिश करेंगे. इससे आने वाले किसी भी चुनाव में लिंगायतों तथा कर्नाटक की जनता के बीच उन्हें लेकर भावनात्मक लगाव जुड़ सकता है.

 

अटल बिहारी वाजपेयी ने नहीं किया था फ्लोर टेस्ट का सामना

इससे पहले साल 1996 में भी कुछ ऐसा हुआ था. साल 1996 में प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने बिना फ्लोर टेस्ट दिए इस्तीफा दे दिया था. इससे पहले ससंद में अपनी सरकार के विश्वास मत के दौरान उन्होंने लंबा-चौड़ा भाषण दिया था. उस समय उनके भाषण को कालजयी कहा गया था.

तब बीजेपी को लोकसभा में 161 सीटें मिली थी और कांग्रेस को 140 सीटेें मिली थीं. लेकिन राष्ट्रपति ने सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते अटल बिहारी वाजपेयी को सरकार बनाने का मौका दिया था. विपक्षी पार्टियों ने आरोप लगाया था कि जब अटल बिहारी वाजपेयी तथा भाजपा को पता था कि वह फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित नहीं कर पाएंगे उसके बाद भी उन्होंने सरकार क्यों बनाई?

बीजेपी की सरकार गिरने के बाद कांग्रेस के हाथ में बाजी थी, बीजेपी के बाद कांग्रेस दूसरी सबसे बड़ी पार्टी थी, जिसे 140 सीटें मिली थीं. वहीं तीसरे नंबर पर थी जनता दल, जिसके पास 46 सीटें थीं. कांग्रेस ने अपने किसी नेता का नाम आगे ना बढ़ाते हुए जनता दल के नेता एचडी देवगौड़ा को पीएम बनाया और जनता दल का समर्थन किया. तीसरे नंबर पर आने के बावजूद जनता दल के नेता को पीएम बनने का मौका मिला.

First published: 19 May 2018, 14:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी