Home » इंडिया » ATM and minimum account balance rules can be changed from 1 July, Relaxations till June 30
 

1 जुलाई से बदल सकते हैं ATM और मिनिमम अकाउंट बैलेंस के नियम, 30 जून तक मिली थी छूट

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 June 2020, 11:20 IST

एटीएम से कैश निकासी और खाते में मिनिमम बैलेंस सहित कई बैंकिंग नियम अगले महीने से बदलने की संभावना है. कोरोना वायरस-लॉकडाउन के दौरान तीन महीने के लिए बैंकिंग लेनदेन संबंधित नियमों में सरकार ने लोगों को छूट दी गई थी. वित्त मंत्रालय ने 30 जून तक एटीएम से कैश निकालने के लिए सभी ट्रांजेक्शन चार्ज वापस ले लिए थे. जब तक ऐसी कोई नई घोषणा नहीं होती है, तब तक एक जुलाई से एटीएम निकासी, बैंक खातों में न्यूनतम बैलेंस संबंधित पिछले नियम 1 जुलाई से लागू रहेंगे.

अधिकांश बैंक खाता धारक से खाते में मिनिमम बैलेंस रखने के लिए कहते हैं, अन्यथा जुर्माना राशि वसूलते हैं. न्यूनतम बैलेंस आवश्यकता 5,000-10,000 के बीच हो सकती है. 10 मार्च को SBI ने सभी 44.51 करोड़ बचत बैंक खातों के लिए न्यूनतम बैलेंस माफ कर दिया था. आम तौर पर बैंक अपने स्वयं के एटीएम में प्रति माह पांच मुफ्त लेनदेन और अन्य बैंकों के एटीएम से तीन मुफ्त लेनदेन की अनुमति देते हैं.


यदि आप इन सीमाओं को पार करते हैं, अगले एटीएम लेनदेन पर आपको चार्ज देना पड़ता है. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने हालही में SBI और अन्य बैंक एटीएम से किए गए सभी लेनदेन पर सेवा शुल्क माफ कर दिया था. 24 मार्च को वित्त मंत्री ने अपनी घोषणा में SBI और अन्य बैंकों के एटीएम से किए गए ट्रांजेक्शन पर 30 जून तक चार्ज माफ करने का फैसला किया था.

पेट्रोल-डीजल की कीमत में लगातार 21वें दिन बढ़ोतरी, अब ये हैं तेल के दाम

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की आधिकारिक वेबसाइट sbi.co.in पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार, मेट्रो शहरों में SBI एक महीने में अपने खाता धारकों को 8 मुफ्त लेनदेन करने की अनुमति देता है. इसके अलावा ग्राहकों से प्रत्येक लेनदेन पर शुल्क लिया जाता है. इस लेनदेनों में 5 एसबीआई एटीएम से और 3 अन्य बैंकों के एटीएम से मुफ्त लेनदेन शामिल हैं. गैर-मेट्रो शहरों में 10 मुफ्त एटीएम लेनदेन होते हैं, जिसमें 5 लेनदेन एसबीआई से किए जा सकते हैं, जबकि 5 अन्य बैंकों के एटीएम से कर सकते हैं.

रेलवे ने 12 अगस्त तक रद्द की सभी नियमित ट्रेनें, जानिए इससे संबंधित कुछ ख़ास जानकारियां

First published: 27 June 2020, 11:08 IST
 
अगली कहानी