Home » इंडिया » auto rickshaw strike in mumbai
 

मुंबई में ऑटो वालों की हड़ताल, राहगीरों को हो रही है परेशानी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:52 IST

निजी कैब कंपनियों के परिचालन और परमिट शुक्ल में बढ़ोतरी के खिलाफ मुंबई के उपनगरों में सोमवार को हजारों ऑटोरिक्शा वाले हड़ताल पर हैं.

हड़ताल बुलाने वाले मुंबई ऑटोरिक्शामेन यूनियन के नेता शशांक राव ने बताया, 'हम निजी कैब कंपनियों के परिचालन और साथ ही परमिट शुल्क बढ़ाकर 15,200 करने का भी विरोध कर रहे हैं. अगर यात्रियों को किसी तरह की असुविधा हो रही है तो इसके लिए राज्य सरकार जिम्मेदार होगी.'

उन्होंने दावा किया कि लगभग 90,000 ऑटोरिक्शा सोमवार को सड़कों पर नहीं उतरे. ऑटोरिक्शा पर निर्भर रहने वाले कई यात्रियों को इस हड़ताल के कारण परेशानी का सामना करना पड़ा है.

दूसरी ओर राज्य परिवहन आयुक्त श्याम वारधाने ने सोमवार को एक निर्देश जारी कर निजी कारों, बसों और अन्य वाहनों को सार्वजनिक परिवहन के रूप में चलने की इजाजत दी है.

वहीं ऑटोचालकों के साथ टैक्सी यूनियन और निजी बस ऑपरेटरों ने भी हड़ताल से जुड़ने की धमकी दी थी.

First published: 15 February 2016, 4:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी