Home » इंडिया » Ayodhya case: Decision on Ayodhya will come by 18 Oct, CJI sets deadline
 

अयोध्या केस: इस तारीख तक आ जायेगा अयोध्या पर फैसला, CJI ने तय की डेडलाइन

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 September 2019, 13:33 IST

सुप्रीम कोर्ट की अयोध्या विवाद मामले की सुनवाई कर रही बेंच ने कहा है कि वह इस मामले की 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी कर सकती है. सीजेआई रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि मामले में याचिकाकर्ता मध्यस्थता का सहारा लेने के लिए स्वतंत्र हैं. हालांकि इस मामले की डे-टू-डे सुनवाई भी जारी रहेगी.

पीठ ने आदेश दिया कि मध्यस्थता की कार्यवाही गोपनीय रहेगी. सीजेआई गोगोई ने याचिकाकर्ताओं से कहा कि यदि आवश्यक हुआ तो 18 अक्टूबर तक सभी दलीलें खत्म करने का संयुक्त प्रयास करेंगे. उन्होंने कहा कि इस मामले में मध्यस्थता करने वालों के उन्हें पत्र मिले हैं, उनका कहना है कि कुछ पक्ष अब भी इसके लिए तैयार हैं. 


मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच-न्यायाधीशों की संविधान पीठ ने कहा कि उसे सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश एफ.एम.आई. का पत्र मिला है. कलीफुल्ला, जो तीन-सदस्यीय मध्यस्थता पैनल का नेतृत्व कर रहे है, उन्होंने कहा है कि कुछ दलों ने मध्यस्थता प्रक्रिया को फिर से शुरू करने के लिए उन्हें लिखा है.

न्यायालय ने हालांकि यह भी कहा कि न्यायमूर्ति कलीफुल्ला की अध्यक्षता में मध्यस्थता प्रक्रिया अभी भी जारी रह सकती है और इससे पहले कि कार्यवाही गोपनीय रहेगी. 6 अगस्त से इस मामले की सुप्रीम कोर्ट में रोजाना सुनवाई हो रही है. सुप्रीम कोर्ट की ओर से इस मामले में मध्यस्थता क मौका दिया गया था. इस पैनल में सुप्रीम कोर्ट के जज एफएम कलीफुल्ला, वरिष्ठ वकील श्रीराम पंचू और अध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर शामिल थे.

अमेरिका लौटा सकता है भारत का जीएसपी दर्जा, 44 लॉ मेकर्स ने ट्रंप को लिखा पत्र

First published: 18 September 2019, 13:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी