Home » इंडिया » Ayodhya case: Supreme Court to resume hearing in Ram Mandir Babri Masjid dispute from today
 

अयोध्या विवाद: सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस की अध्यक्षता वाली बेंच आज से मामले की फिर करेगी सुनवाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 July 2018, 9:07 IST

राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट आज से फिर सुनवाई शुरू करने जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता में तीन जजों की पीठ मामले की सुनवाई करेगी. इन तीन जजों में सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एस ए नजीर शामिल हैं.

बता दें कि विशेष पीठ ने 17 मई को हिन्दू संगठनों की तरफ से पेश दलीलें सुनी थीं, जिनमें उन्होंने मुस्लिमों के इस अनुरोध का विरोध किया था कि मस्जिद को इस्लाम के अनुयायियों द्वारा अदा की जाने वाली नमाज का आंतरिक भाग नहीं मानने वाले 1994 के फैसले को बड़ी पीठ के पास भेजा जाए.

 

गौरतलब है कि 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में बाबरी मस्जिद को गिरा दिया गया था. इस मामले में आपराधिक केस के साथ-साथ दीवानी मुकदमा भी चला. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 30 सितंबर 2010 को अयोध्या विवाद में फैसला दिया था. फैसले में कहा गया था कि विवादित जमीन को 3 बराबर हिस्सों में बांटा जाए.

अपने फैसले में हाईकोर्ट ने कहा था कि जिस जगह रामलला की मूर्ति है उसे रामलला विराजमान को दिया जाए. सीता रसोई और राम चबूतरा निर्मोही अखाड़े को दिया जाए जबकि बाकी का एक तिहाई जमीन सुन्नी वक्फ बोर्ड को दी जाए.

पढ़ें- सेना के जवान औरगंजेब की मौत पर खुलासा, लड़की के चक्कर में गंवानी पड़ी जान

सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या की विवादित जमीन पर रामलला विराजमान और हिंदू महासभा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की. वहीं, दूसरी तरफ सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने भी सुप्रीम कोर्ट में हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ अर्जी दाखिल कर दी. इसके बाद इस मामले में कई और पक्षकारों ने याचिकाएं लगाई. 

First published: 6 July 2018, 8:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी