Home » इंडिया » Ayodhya Dispute: Hearing adjourned after Justice UU Lalit recused himself, January 29 as the next date
 

अयोध्या विवाद: सुनवाई से पीछे हटे जस्टिस ललित, 29 जनवरी को बैठेगी नई बेंच, तब होगी सुनवाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 January 2019, 11:26 IST

अयोध्या के राम मंदिर सुनवाई मामले में आज सुप्रीम कोर्ट से बहुत ही अप्रत्याशित खबर सामने आई. पांच जजों की जो बेंच मामले की सुनवाई करने वाली थी उसमें से एक जज ने अपने हाथ पीछे खींच लिए. इसके बाद आज की सुनवाई स्थगित कर दी गई. अब इस मामले की अगली सुनवाई 29 जनवरी को होगी. इससे पहले नई बेंच का गठन किया जाएगा.

बता दें कि राम मंदिर मामले में आज की सुनवाई काफी अहम थी. बेसब्री से इस सुनवाई का इंतजार किया जा रहा था. लेकिन जैसे ही सुनवाई शुरू होने वाली थी सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने आकर बताया कि इस बेंच के जस्टिस ललित पर मुस्लिम पक्षकार द्वारा सवाल उठाने के कारण वह सुनवाई से अलग होना चाहते हैं.

दरअसल, सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील राजीव धवन ने जस्टिस यूयू ललित पर सवाल उठा दिया. उनका कहना है कि वह 1994 में वह कल्याण सिंह के वकील थे और उनके लिए पेश हुए थे. राजीव धवन ने इस पर खेद जताया. उनके पक्ष में चीफ जस्टिस ने कहा कि आप खेद क्यों जता रहे हैं, आपने केवल तथ्य सामने रखे थे.

पढ़ें- लोकसभा चुनाव से पहले बिखरने की कगार पर ममता बनर्जी की पार्टी, 6 सांसद थामेंगेेे BJP का दामन

वहीं केंद्र सरकार के वकील हरीश साल्वे ने कहा कि हमें यूयू ललित से कोई समस्या नहीं है. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आज सुनवाई नहीं होगी बल्कि केवल तारीख और समयसीमा का फैसला होगा. अब 29 जनवरी को अगली सुनवाई होगी.

First published: 10 January 2019, 11:10 IST
 
अगली कहानी