Home » इंडिया » azam khan pay tribute to hashim ansari on last ritual
 

मिट गईं हाशिम अंसारी और आजम खान की दूरियां, सुपुर्द-ए-खाक में की शिरकत

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:49 IST
(पत्रिका)

बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि विवाद में मुस्लिम पक्ष के पैरवीकार हाशिम अंसारी के इंतकाल के बाद उनके कट्टर विरोधी माने जाने वाले आजम खान सुपुर्द-ए-खाक में अयोध्या पहुंचे. दोनों के बीच सालों से चल रही तल्खी का अंत हाशिम अंसारी के गुजर जाने के बाद हुआ, जब खुद आजम खान बुधवार को हाशिम अंसारी के निधन के बाद लखनऊ से अयोध्या पहुंचे.

अयोध्या पहुंचकर आजम खान ने बाबरी मस्जिद मामले के मुख्य पैरोकार हाशिम अंसारी के निधन पर शोक जताया और उन्हें श्रद्धांजलि दी.

अंसारी के निधन के बाद अयोध्या पहुंचे आजम खान बेहद दुखी नजर आए और उन्होंने उनके बेटे इकबाल अंसारी के कंधे पर हाथ रखकर उन्हें इस दुख की घड़ी में साहस और धैर्य से काम लेने की नसीहत दी.

आजम खान ने दुखी परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए कहा, "हमारी सरकार की ओर से जो भी सहूलियत हो सकेगी, वह हाशिम अंसारी के परिवार को दी जाएगी." इसके अलावा यूपी सरकार ने हाशिम अंसारी को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी.

बाबरी मस्जिद केस के पैरोकार हाशिम अंसारी ने आजम खान को उस समय लताड़ लगाई थी, जब आजम खान ने कहा था कि अयोध्‍या में तो राम मंदिर बन गया है. इस पर अंसारी ने कहा था कि तब रामलला तिरपाल में क्‍यों रहें?

आजम को लगाई थी लताड़

हाशिम अंसारी ने कहा था, "जब राम मंदिर बन गया है, तो रामलला तिरपाल में क्यों रह रहे हैं. मैं उन्हें तिरपाल में नहीं देख सकता. मुझे इस बात से काफी पीड़ा होती है."

हाशिम अंसारी ने कहा था, "बाबरी मस्जिद केस की पैरवी मैं करूं और फायदा आजम खान उठाएं. ऐसा नहीं चलेगा. अब मैं केस की पैरवी नहीं करूंगा, आजम खान करें. आजम खान चित्रकूट में मंदिरों का दर्शन करते हैं, लेकिन अयोध्या के मंदिर का नहीं. वो राजनीति कर रहे हैं."

हाशिम अंसारी को राजकीय सम्मान के साथ सुपुर्द-ए-खाक किया गया (पत्रिका)

श्रद्धांजलि देने के लिए लगा तांता

हाशिम अंसारी के इंतकाल के बाद उनके घर पर अखिलेश सरकार के कई बड़े नेता और स्थानीय प्रशासन के अधिकारी अपनी शोक संवेदना व्यक्त करने पहुंचे. इस मौके पर बेसिक शिक्षा मंत्री अहमद हसन भी अयोध्या पहुंचे और हाशिम अंसारी के आवास पर जाकर शोक जताया.

अहमद हसन ने कहा, "हाशिम अंसारी अयोध्या में बाबरी मस्जिद विवाद को लेकर देश-विदेश में भी जाने जाते थे, उनके निधन से एक बहुत बड़ी क्षति हुई है. अल्लाह उन्हें जन्नत नसीब करें."

वही हाशिम अंसारी के बाद अयोध्या मामले के सवाल पर अहमद हसन ने कहा, "यह मामला कोर्ट में है और कोर्ट से जो फैसला आएगा उसे देश का मुसलमान मानेगा."

फैजाबाद रेंज के पुलिस उपमहानिरीक्षक राकेश चंद साहू और फैजाबाद मंडल के आयुक्त सूर्य प्रकाश मिश्रा सहित जिला प्रशासन के अन्य वरिष्ठ अधिकारी हाशिम अंसारी के आवास पर पहुंचे और श्रद्धांजलि अर्पित की. इस मौके पर हजारों की संख्या में लोग दिवंगत हाशिम अंसारी के घर के पास जमा रहे.

First published: 21 July 2016, 12:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी