Home » इंडिया » Azam Khan says punishment Muslims are getting after freedom of India in 1947
 

मॉल लिंचिंग पर बोले सपा सांसद आजम खान, कहा- आजादी के बाद से मुस्लिम भुगत रहे ये सजा

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 July 2019, 13:11 IST

सपा सांसद आजम खान ने एक बार फिर से एक ऐसा बयान दिया है जिसे लेकर विवाद शुरु हो गया है. शुक्रवार को उन्होंने देशभर में बढ़ रही मॉब लिंचिंग की घटना के बारे में अपनी राय रखी. मॉब लिंचिंग पर आजम खान ने कहा कि ये वह सजा है जिसे देश के मुसलमान 1947 से भुगत रहे हैं. उन्होंने कहा कि अब इस मामले में जो भी होगा मुसलमान उसका सामना करेंगे.

रामपुर से सांसद आजम खान ने आगे कहा कि, "हमारे पूर्वज पाकिस्तान क्यों नहीं गए? यह बात मौलाना आजाद, जवाहरलाल नेहरू, सरदार पटेल और बापू से पूछी जाना चाहिए. उन्होंने ही मुस्लिमों से वादे किए थे. बता दें कि यह पहला मौका नहीं है जब आजम खान ने इस तरह का बयान देकर विवाद पैदा कर दिया हो.

बता दें कि इससे पहले आजम खान ने लोकसभा चुनाव के दौरान बीजेपी नेत्री जयाप्रदा पर अभद्र टिप्पणी की थी. इस टिप्पणी को लेकर भी खूब बवाल हुआ था. इसके बाद महिला आयोग ने खान को नोटिस भी जारी किया था. चुनाव आयोग ने इस पर संज्ञान लेकर उन पर 3 दिन तक प्रचार ना करने का बैन लगा दिया था.

हाल ही में आजम खान के खिलाफ जौहर यूनिवर्सिटी के लिए किसानों की जमीन हड़पने के कई मामले दर्ज हुआ है. इस मामले में सूबे के डिप्टी कलेक्टर की ओर से आजम खान का नाम उत्तर प्रदेश के एंटी भू माफिया पोर्टल पर दर्ज कराया गया. इस मामले में आजम खान ने कहाकि ये जमीनें साल 2005 में किसानों से चेक के माध्यम से नियम के मुताबिक खरीदी गई थीं.

उन्होंने कहा कि मेरा मकान एक गली में है, जिसमें चार पहिया वाहन नहीं जा सकता. खान ने आरोप लगाया कि क्यूकि मैं बीजेपी के खिलाफ चुनाव जीता था, इसलिए मुझे सजा दी जा रही है।

First published: 20 July 2019, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी