Home » इंडिया » B. S. Yeddyurappa karnataka new CM, rahul gandhi says India will mourn the defeat of democracy
 

कर्नाटक: येदियुरप्पा के CM बनने पर राहुल का तंज- लोकतंत्र की हार पर शोक मनाएगा भारत

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 May 2018, 9:48 IST

कर्नाटक में सत्ता के लिए चल रही उठा-पटक के बाद आज भाजपा के नेता बीएस येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली. हालांकि अभी भी कुर्सी बचाने के लिए 24 घंटों के अंदर ही उन्हें अपने 112 विधायकों की लिस्ट कोर्ट को पेश करनी है.

बीजेपी के सरकार बनाने के दावे पर राहुल गांधी ने ट्वीट करके कहा, '' बीजेपी का सरकार बनाने का दावा तर्कहीन है जब ये स्पष्ट है कि कर्नाटक में सरकार बनाने के लिए उसके पास संख्या बल कम है. ये एक तरह से हमारे संविधान का मजाक उड़ाना है. आज सुबह जब देश बीजेपी की खोखली जीत का जश्न मना रहा है, भारत लोकतंत्र की हार को शोक करेगा.''

गौरतलब है कि कर्नाटक में भाजपा के नेता बीएस येदियुरप्पा ने तीसरी बार मुख्यमंत्री पद के रूप में शपथ ली. इसके साथ ही बीजेपी की 22 राज्यों में सरकार हो गई. यानि कि साल 2014 के बाद बीजेपी ने 17 राज्यों में सरकार बनाई है. ये पहली बार है कि किसी बीजेपी मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह में पीएम मोदी और अमित शाह मौजूद नहीं थे.

हालांकि येदियुरप्पा को कुर्सी बचाने के लिए 112 विधायकों की समर्थन लिस्ट कोर्ट में पेश करनी होगी. बीजेपी ने 104 सीटों पर जीत हासिल की है ऐसे में 112 विधायकों के समर्थन की लिस्ट कोर्ट को सौंपना आसान नहीं होगा. येदियुरप्पा अगर 112 विधायकों की लिस्ट नहीं सौंप पाएं तो उन्हें 24 घंटे के भीतर ही मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ सकती है.

गौरतलब है कि कर्नाटक में भाजपा के नेता बीएस येदियुरप्पा ने तीसरी बार मुख्यमंत्री पद के रूप में शपथ ली. इसके साथ ही बीजेपी की 22 राज्यों में सरकार हो गई. यानि कि साल 2014 के बाद बीजेपी ने 17 राज्यों में सरकार बनाई है. ये पहली बार है कि किसी बीजेपी मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह में पीएम मोदी और अमित शाह मौजूद नहीं थे.

हालांकि येदियुरप्पा को कुर्सी बचाने के लिए 112 विधायकों की समर्थन लिस्ट कोर्ट में पेश करनी होगी. बीजेपी ने 104 सीटों पर जीत हासिल की है ऐसे में 112 विधायकों के समर्थन की लिस्ट कोर्ट को सौंपना आसान नहीं होगा. येदियुरप्पा अगर 112 विधायकों की लिस्ट नहीं सौंप पाएं तो उन्हें 24 घंटे के भीतर ही मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ सकती है.

ये भी पढ़ें- कर्नाटक: येदियुरप्पा की कुर्सी पर लटकी तलवार, 24 घंटे में छोड़नी पड़ सकती है CM की कुर्सी!

कर्नाटक में जीत के बाद भी बीजेपी के लिए सरकार बनाना इतना आसान नहीं है. 104 सीटें जीतने के बाद भी बीजेपी बहुमत से 8 सीटों की दूरी पर है. इसके अलावा भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा के सरकार बनाने के दावे को कांग्रेस की लगायी अटकलों का सामना करना पड़ा.

येदियुरप्पा के सीएम पद के शपथ ग्रहण के खिलाफ कांग्रेस ने देर रात सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की. इस याचिका पर सुप्रीम कोर्ट के तीन जजों ने आधी रात को सुनवाई की. सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस की याचिका पर सुनवाई करते हुए भाजपा के नेता बीएस येदियुरप्पा के गुरुवार को होने वाली शपथ ग्रहण समारोह पर रोक लगाने से इनकार कर दिया.इसी के साथ येदियुरप्पा ने आज कर्नाटक में सीएम पद की शाप[आठ ग्रहण की और कर्नाटक में भाजपा सत्ता पर काबिज हो गयी.

First published: 17 May 2018, 9:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी